राह ग्रुप फाउंडेशन की पहल से गुलजार होंगे चरखी-दादरी के शिक्षण संस्थान

बीस लाख से अधिक फूलदार पौधे निशुल्क वितरित करेगी संस्था

 
राह ग्रुप फाउंडेशन की पहल से गुलजार होंगे चरखी-दादरी के शिक्षण संस्थान

बेहद महंगे माने जाने वाले फूलों के पौधे भी राह ग्रुप फाउंडेशन देगा नि:शुल्क

अभियान के पहले दिन जिले की 12 संस्थाओं को वितरित किए फूलदार पौधे

चरखी-दादरी- जिले के शिक्षण संस्थानों को फूलों से गुलजार बनाने के लिए सामाजिक संस्था राह ग्रुप फाउंडेशन के प्रावधान में बीस लाख से अधिक फूलदार पौधे वितरित करने की कड़ी के पहले दिन बुधवार को 12 शिक्षण संस्थानों को 7100 पौधे वितरित किए गए। वो भी पूर्णरुप से नि:शुल्क। ये फूलदार पौधे स्कूलों, पार्कों, श्मशान घाटों, मंदिरों, गुरुद्वारों, सरकारी कार्यालयों व दूसरे प्रकार के सार्वजनिक स्थलों पर लगाए जा सकेंगे।

 यह जानकारी देते हुए राह ग्रुप फाउंडेशन के नेशनल चेयरमैन व केश कलां एवं कौशल विकास बोर्ड के निदेशक नरेश सेलपाड़ एवं राह क्लब चरखी-दादरी के संयोजक हरपाल आर्य ने बताया कि ये पौधे लेने के इच्छुक संस्थाओं या व्यक्तियों को पहले अपनी जमीन तैयार करनी होगी,

 उसके बाद वे अपनी जरुरत के हिसाब से पौधे ले सकेंगे। इस अभियान के तहत बुधवार को श्री राम पब्लिक स्कूल कान्हैड़ा, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय हाड़ौदी, राजकीय कन्या माध्यमिक विद्यालय काकडौली उक्मी, राजकीय उच्च विद्यालय किशनपुरा, खण्ड शिक्षा अधिकारी कार्यालय बाढड़ा, राजकीय प्राथमिक विद्यालय कारी, राजकीय प्राथमिक विद्यालय कुडल सहित जिले के 12 शिक्षण संस्थानों को अलग-अलग किस्मों के पौधे वितरित किए गए।

इन किस्मों के वितरित किए पौधे

राह ग्रुप फाउंडेशन के नेशनल चेयरमैन नरेश सेलपाड़ के अनुसार राह ग्रुप फाउंडेशन की हिसार जिले में स्थित प्रदेश की सबसे बड़ी नर्सरी में डेलिया, आइस, कराईटेना, करनडोला, पीली सरसों, आयरस, गेंदा, प्लक, फ्लोक्स, स्वीट विलियम, कोसमॉस, कैलेनडूला, डेजी, स्टॉक, वॉल फ्लावर, पॉपी, कैलिफोर्निया पॉपी, नगरेट, लीफ वॉल फ्लावर, चांदनी, चांदी टफ, डहेलिया, पंजी, वरबीना, डिपोरिया, बराइकम, गजेनिया, जेरेनियम, स्टाक, सालविया, आस्टर, डैफोडिल, फ्रेशिया जैसे पौधे वितरित किए जा रहें हैं। उनके अनुसार राह संस्था की नसर्री में ऐसे पौधे भी तैयार किए गए हैं जो कि अब तक केवल पहाड़ी क्षेत्रों के अनुकूल ही माने जाते रहे हैं।

राज्यभर के स्कूलों, पंचायतों व संस्थाओं को बांटते हैं पौधे

धरती को गुलजार करने की इस मुहिम के तहत प्रत्येक वर्ष सर्दियों से पहले अलग-अलग जिलों में बहुत सी किस्म के फूलों की बिजाई कर उनकी नर्सरी तैयार की जाती है। नर्सरी तैयार होने के बाद इसे प्रदेशभर के स्कूलों, गांवों, पंचायतों व अन्य शिक्षण, सार्वजनिक पार्कों व दूसरे प्रकार के संस्थाओं को नि:शुल्क बांटा जाता है।

हर वर्ष 20 लाख फूलदार पौधे

राह ग्रुप फाउंडेशन के नेशनल चेयरमैन व केश कला एवं कौशल विकास बोर्ड के निदेशक नरेश सेलपाड़ की अगवाई में राह संस्था हिसार, जींद, भिवानी, कैथल, फतेहाबाद, चरखी-दादरी, रोहतक, पंचकूला के क्षेत्रों में प्रत्येक वर्ष बीस लाख से अधिक पौधे वितरित करेगी। इसके बाद पूरे प्रदेश में प्रत्येक वर्ष युवा क्लबों के माध्यम से एक करोड़ से अधिक फूलदार पौधे वितरित करने व लगाने का लक्ष्य तय किया गया है।

40 किस्म के पौधे मिल रहें हैं नि:शुल्क

सामाजिक संस्था राह ग्रुप फाउंडेशन व आपसी एनजीओ की कलरफुल इण्डिया मुहिम के तहत तलवंडी राणा श्मशान घाट नर्सरी में डेलिया, आइस, कराईटेना, करनडोला, पीली सरसों, आयरस, गेंदा, प्लक, फ्लोक्स, स्वीट विलियम, कोसमॉस, कैलेनडूला, डेजी, स्टॉक, वॉल फ्लावर, पॉपी, कैलिफ्रोनिया पॉपी, नगरेट, लीफ वॉल फ्लावर, चांदनी, चांदी टफ, डहेलिया, पंजी, वरबीना, डिपोरिया, बराइकम, गजेनिया, जेरेनियम, स्टाक, सालविया, आस्टर, डैफोडिल, फ्रेशिया, सदाबहार, तुलसी, मरुआ सहित 40 किस्मों के फूलों के पौधों का नि:शुल्क वितरण किया जा रहा है।

पहले तैयार करनी होगी जमीन

राह ग्रुप फाउंडेशन के नेशनल चेयरमैन व केश कलां एवं कौशल विकास बोर्ड के निदेशक नरेश सेलपाड़ एवं फ्लावर मैन डा. रामजी जयमल के अनुसार ये पौधे लेने के इच्छुक संस्थाओं या व्यक्तियों को पहली अपनी जमीन तैयार करनी होगी, उसके बाद वे अपनी जरुरत के हिसाब से पौधे ले सकेंगे।

कहां-कहां मिल रहे हैं फूलों के पौधे

राह ग्रुप फाउंडेशन के नेशनल चेयरमैन व केश कलां एवं कौशल विकास बोर्ड के निदेशक नरेश सेलपाड़ व प्रोजेक्ट कोऑर्डिनेटर सारदुल वर्मा के अनुसार ये पौधे प्राप्त करने के लिए निम्न नर्सरियों से संपंर्क किया जा सकता है - तलवंडी राणा श्मशान घाट नर्सरी, खेदड़ थर्मल प्लांट नर्सरी, किरमारा नर्सरी अग्रोहा, राजकीय आईटीआई तोशाम रोड, हिसार

FROM AROUND THE WEB