उन्नाव में 250 दुकानें रही बंद संवेदनशील इलाकें में ड्रोन से की गई निगरानी

 
उन्नाव में 250 दुकानें रही बंद संवेदनशील इलाकें में ड्रोन से की गई निगरानी

स्वतंत्र प्रभात-

उन्नाव


उन्नाव। कानपुर में हुई हिंसा के बाद आज उन्नाव में जुमे की नमाज थी। इसको लेकर लगातार पुलिस प्रशासन अलर्ट पर था। उन्नाव में 2 दिन पहले बाजार बंदी का पोस्टर वायरल होने के बाद भ्रांतियां उत्पन्न हुई। हालांकि जिला प्रशासन और धर्मगुरुओं ने वायरल पोस्टर को फर्जी बताया था। शांत माहौल रखने की अपील की थी। आज सुबह कई बाजारों में दुकानें बंद रही, लेकिन दोपहर बाद लगभग सभी दुकानें खुल गईं।

जुमे की नमाज को लेकर आज उन्नाव में शहर के धवन रोड, कैसरगंज, छिपियान मोहल्ला की बाजारे सुबह ग्यारह बजे तक करीब 250 दुकानें बंद रही। बाजार बंद होने से पुलिस महकमे में और खुफिया विभाग की टीमों में हड़कंप मचा रहा। जिम्मेदार लोगों ने बाजार के व्यापारियों और दुकानदारों से बात की करीब बारह बजे सभी ने अपनी-अपनी दुकानें खोल दी। दोपहर एक बजे शहर की जामा मस्जिद में नमाज शुरू हुई मस्जिद के इमाम हाफिज जमाल ने तय समय पर नमाज को सकुशल संपन्न कराया।

बताया जा रहा है पहुंचे नमाजियों को संदेश दिया कि किसी भी प्रकार का कहीं भी कोई बवाल दंगा नहीं करेंगे। कानपुर में जो घटना हुई है। उसको लेकर प्रशासन कार्रवाई कर रहा है। यह संदेश सुनते ही नमाजी नमाज समापन के बाद अपने अपने घर को चले गए। इधर लगातार डीएम रविंद्र कुमार, एसपी दिनेश त्रिपाठी समेत जिम्मेदार आला अफसर संवेदनशील इलाकों में भारी पुलिस बल और पीएसी के साथ भ्रमण सील बने रहे बताया जा रहा है। एहतियात के तौर पर पुलिस फोर्स तैनात रहा है।

   

FROM AROUND THE WEB