घाघरा नदी लाल निशान के ऊपर धारा प्रवाह बह रही

घाघरा नदी का जलस्तर बढ़ने से आसपास के ग्रामीणों में दहशत        
 
घाघरा नदी का जलस्तर बढ़ने से आसपास के ग्रामीणों में दहशत*       

स्वतंत्र प्रभात 

    रामनगर बाराबंकी: घाघरा सरयू नदी में शुक्रवार को तीन लाख 20 हजार क्यूसेक पानी कतरनिया घाट से छोड़ा गया था, जिसके चलते घाघरा नदी खतरे के लाल निशान से ऊपर बह रही है। शनिवार को घाघरा का जलस्तर तीव्र गति से बढ़ने लगा है। जिसके चलते सैकड़ों गांव रामनगर सूरतगंज व सिरौलीगौसपुर ब्लाक के गांव  घाघरा नदी से प्रभावित होंगे।इस समय घाघरा का जलस्तर 1.06 पॉइंट 070 से ऊपर डेंजर लेवल से 4 सेंटीमीटर ऊपर नदी बह रही है। हालांकि नदी इस समय स्थिर है। छोड़ा गया पानी जो आ रहा है घाघरा नदी में उसका फैलाओ आसपास के गांव के तालाबों में प्रवेश कर रहा है। जिससे तपेशिपाह, कोरिनपुरवा,नयापुरवा, जैनपुरवा, परसादीपुरवा, मल्लाहन पुरवा सिसौंडा, दुर्गापुर, लहड़रा मढ़ना,लोहटीजई की सीमा के तालाबों में पानी भरने लगा है। जिससे गांवों के लोग बाढ़ के पानी से दहशत में आ गए हैं जिन गांवों में पानी प्रवेश कर रहा है वहां पर बाढ़ राहत सामग्री नहीं वितरित की गई है।

   

FROM AROUND THE WEB