जंगलों में एक बार फिर दिखेगा चीता: वन क्षेत्राधिकारी

चीते के विलुप्त होने व पुनः जंगलों में दिखने को लेकर छात्र/छात्रों संग की गई गोष्ठी
 
छात्र/छात्राओं के साथ गोष्ठी करते हुए वन क्षेत्राधिकारी
पनियरा/महराजगंज।
भारत के जंगलों में चार दशक बाद एक बार फिर चीता दिखेगा। चीता के विलुप्त होने व एक बार पुनः भारत के जंगलों में कुल 8 चीता लाया जाएगा।
उक्त बातें वन क्षेत्राधिकारी बांकी रेंज पनियरा जगदम्बा पाठक ने बुधवार को पनियरा इंटरमीडिएट कालेज मन्नान खां विद्यालय में छात्र/छत्राओ को संबोधित करते हुए कही। वन क्षेत्राधिकारी ने कहा कि चीता का रूप रंग कैसा होता है इसे लेकर विद्यालय के बच्चों में एक सप्ताह के भीतर एक प्रतियोगिता कराई जाएगी जिसमें चयनित बच्चो को पुरस्कार देकर सम्मानित किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि चार नर व चार मादा चीता अफ्रीका के नामीबिया से मंगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक समय था जब भारत मे चीतों की अच्छी खासी आबादी रहती थी, इनके खाल से कारोबार करने के लिए इनका शिकार किया जाने लगा जिससे इनकी आबादी घटती गयी और धीरे धीरे भारत से यह विलुप्त हो गए ऐसे में 74 साल बाद एक बार फिर से जंगलों में चीते आएंगे।
इस दौरान वन क्षेत्राधिकारी पनियरा जगदम्बा पाठक के अलावा विद्यालय के प्रबन्धक आफाक आलम उर्फ सैफ खां, वन दरोगा मनीष तिवारी, वन रक्षक विशाल गौड़, आलोक यादव, सुधान्त तिवारी सहित अन्य लोग मौजूद रहे।
   

FROM AROUND THE WEB