सोशल ऑडिट कार्यक्रम के तहत अपात्रों को चिंहित कर होगी वसूली

 
v


स्वतंत्र प्रभात
अम्बेडकर नगर। 


तहसील सभागार में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के सोशल ऑडिट किये जाने के संबंध में राजस्व विभाग, कृषि विभाग व विकास विभाग की संयुक्त बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें जिले से भूमि संरक्षण अधिकारी/प्रभारी उपनिदेशक कृषि डॉ. राजमंगल ने सभा को संबोधित करते हुए  कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि केंद्र व राज्य सरकार  की सर्वोच्च प्राथमिकता की योजना है। 

इसमें प्रत्येक चार माह पर मुख्य फसलों की तैयारी किये जाने हेतु2000 रुपया कुल 6000 रुपया सालाना कृषकों को दिया जाना है।इसके लिये वे सभी कृषक जिनका नाम खतौनी में है तथा वे उस भूमि पर कृषि कार्य करते हों तो परिवार में एक व्यक्ति पात्र होंगे।अपात्र वे हैं जो भूमिहीन हो, आयकरदाता हों, केंद्र या राज्य सरकार के कर्मचारी, कोई संवैधानिक पद धारक, संस्थागत भूमि धारक।बैठक को संबोधित करते हुए उपजिलाधिकारी सुनील कुमार ने बताया कि वर्तमान में 1 मई से 30 जून तक सोशल ऑडिट कार्यक्रम के तहत अपात्रों को चिंहित किया जाना है तथा उनसे वसूली भी की जानी है। 

जिसके लिये लेखपाल, सेक्रेटरी, व कृषि विभाग के कर्मचारी संयुक रूप से जाँच व वसूली की कार्रवाई करेंगे।इसके अतिरिक्त जो पात्र व्यक्ति छूट गए हैं उनको इस योजना के तहत लाभान्वित किया जाएगा। बैठक का संचालन तहसीलदार सुनील कुमार ने किया व बैठक में सहायक विकास अधिकारी, क्षेत्रीय कृषि अधिकारी एवं समस्त राजस्व निरीक्षक व लेखपाल मौजूद रहे।
 

FROM AROUND THE WEB