ग्राम प्रधान व सचिव के साथ किया गया आवश्यक बैठक, निगरानी समिति सक्रिय करने पर जोर

Nautanwa Samachar
 
बैठक करते हुए अधिकारी व कर्मचारी

महराजगंज। नौतनवां ब्लाक सभागार  कक्ष मे बुधवार को यूनिसेफ व पशु चिकित्सा अधिकारी द्वारा ब्लाक क्षेत्र के ग्राम प्रधान एवं सचिवों के साथ एक बैठक कर उन्हें विभिन्न जानकारियों से अवगत कराया गया। कार्यक्रम में स्वास्थ्य विभाग के बी, यम, सी, यूनिसेफ के सफीउर्रहमान ने बताया कि कोविड की तीसरी लहर ओमीक्रॉन को लेकर सरकारें सख्त है और इससे बचाव के लिए हमसब को भी सतर्क होने की जरूरत है, इसलिए जिन गांवों में निगरानी समितियां बनाई गयीं है उसे सक्रिय किया जाय तथा जहां निगरानी समिति की गठन नहीं की गई है उन गांवों में अतिशीघ्र निगरानी समितियों की गठन कराई जाय। उन्होंने कहा कि ग्रामस्तर पर नियमित टीका करण कराया जा रहा है जिससे जानलेवा बीमारियों से लोगों को बचाया जा सकता है। टीबी, पोलियो, खसरा, आदि जानलेवा बीमारी है और इसके लिए तत्काल उपचार की आवश्यकता होती है। साथ ही उन्होंने 15 से 18 वर्ष के लोगों को कोविड 19 के बचाव के लिए शत प्रतिशत टीका करण कराने पर भी जोर दिया। इसी क्रम में मुख्य पशु चिकित्साधिकारी ने ग्राम प्रधान व ग्राम पंचायत सचिवों को गांव व सड़कों पर घूम रहे आवारा पशुओं को पकड़कर गौशालाओं मे भेजने आदि प्रमुख विषयों पर विस्तार से चर्चा किया।

उनका कहना रहा कि जनप्रतिनिधि पशु पालकों को पशुधन बीमा योजना, पशु ऋण के बारे में लोगों को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करें ताकि पशुपालक इस योजना से लाभान्वित हो सकें।

इस मौके पर एडीओ पंचायत मनराज प्रसाद, एडीओ कोऑपरेटिव अरविन्द वर्मा, ग्राम सचिव रामरतन यादव, मनोज प्रजापति, श्रीनिवास, देवेन्द्र यादव, अशोक पासवान, रंजय गोंड़, योगेश मद्धेशिया, धीरु यादव, बालेश्वर यादव, विष्णुप्रिया दुबे, सुनीता केशरी, ग्राम प्रधान बबलू यादव, नियाज खान, शिवनाथ, मोहन प्रसाद, अनिल कुमार पासवान, अहमद, उमेश यादव,राजू पासवान, जीतबहादुर उर्फ भोला यादव आदि मौजूद रहे।

FROM AROUND THE WEB