सरकार के व्रक्षारोपण अभियान व पर्यावरण को बट्टा लगाते लकडकट्टे धड़ल्ले से कर रहे हरे पेड़ो का कटान

पेड़ो का कटान रुकवाया बल्कि कार्यवाही का भी आश्वासन दिया
 
 सरकार के व्रक्षारोपण अभियान व पर्यावरण को बट्टा लगाते लकडकट्टे धड़ल्ले से कर रहे हरे पेड़ो का कटान
व्यक्ति के बाग में हनीफ ठेकेदार हरे आम के पेडो पर आरा चलवा रहा

हरदोईं की तहसील संडीला में अधिकारियों की नाक के नीचे हरे आम के पेड़ों पर लगातार दो दिनों से आरा चल रहा मगर कोई कार्यवाही नहीं की जा रही मामले की जानकारी जिला वन अधिकारी को देने पर उन्होंने सिर्फ पेड़ो का कटान रुकवाया बल्कि कार्यवाही का भी आश्वासन दिया।

 मामला तहसील व थाना संडीला के किसान टोला मौलवीखेड़ा का है जहां लगातार दो दिनों से हरे आम के पेड़ों का कटान चल रहा था कुछ विश्वस्त सूत्रों से मामले की जानकारी मिली कि नौसे नामक व्यक्ति के बाग में हनीफ ठेकेदार हरे आम के पेडो पर आरा चलवा रहा। मामले की जकनकारी मिलते ही जब उच्चाधिकारियों को सूचना दी गई

 सरकार के व्रक्षारोपण अभियान व पर्यावरण को बट्टा लगाते लकडकट्टे धड़ल्ले से कर रहे हरे पेड़ो का कटान

तो कार्य तो रुक गया मगर मामले को रफा दफा करने को मौके पर कटे गए हरे पेड़ों के ठूठ खुदवाने शुरू कर दिए गए। नदी आश्चर्य की बात तो यह है कि दिन रात पेट्रोलिंग करती पुलिस को भी हरे पेड़ों का कटान नहीं दिखा। वन विभाग के स्थानीय अधिकारी तो ऐसे मौके पर या तो छुट्टी पर होते हैं या गुडवर्क दिखाने को थोड़ी बहुत कार्यवाही कर मामले को दबा देते हैं या परमीशन है कहकर बड़ी आसानी से सरकार के व्रक्षारोपण कार्य को बट्टा लगाकर पर्यावरण से खिलवाड़ कर रहे।

संडीला अंतर्गत भरावन से लखनऊ बार्डर तक यदि शाम को गुजर रहे हों तो अवैध भट्ठा भट्टियों के चलते आपको जो घुटन महसूस होगी जिससे ना सिर्फ पर्यावरण को लगातार नुकसान पहुच रहा बल्कि वहां रहने वाले लोगों के स्वास्थ्य से भी खिलवाड़ हो रहा मगर अधिकारियों की आंखें बंद होने से इस पर ना तो जांच होती ही ना ही कोई कार्यवाही।

FROM AROUND THE WEB