हिंदी दिवस राजकीय हाई स्कूल इंदिरहटा में विचार गोष्ठी का आयोजन

 
स्वतंत्र प्रभात

स्वतंत्र प्रभात 

महोबा । 
आज 14 सितंबर 2021 को हिंदी दिवस पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। आयोजन में बुंदेलखंड क्षेत्र के समाजसेवी कर्मयोगी  संतोष कुमार गंगेले कर्मयोगी को मुख्य अतिथि के रुप में आमंत्रित किया गया इस आयोजन की अध्यक्षता संस्था प्रमुख रामआशरे प्रजापति प्रधानाचार्य द्वारा की गई कार्यक्रम का संचालन शिक्षक प्रवीण कुमार द्वारा किया गया। उत्तर प्रदेश राजकीय सरकार द्वारा अमृत महोत्सव एवं नारी सशक्तिकरण को लेकर के तथा मतदाता जागरूकता अभियान को सफल बनाने के लिए विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया इस अवसर पर संस्था के शिक्षक अखिलेश कुमार भारतीय ज्ञानवंत सिंह तोमर प्रवीण कुमार राम हेत सिंह आशीष कुमार गोष्ठी में उपस्थित रहे l
    राजकीय माध्यमिक शाला संस्था प्रभारी  मिथिलेश सोनी  मेघा गुप्ता संगीता तिवारी स्वप्निल बाजपेई भावना सुल्लेरे आरती देवी संदीप तिवारी एवं शिक्षा मित्र जगलाल उपस्थित रहे l इस अवसर पर सर्वप्रथम सरस्वती पूजन के साथ ही कन्या पूजन हुआ बच्चों ने हिंदी के संबंध में विचार रखे कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संतोष गंगेले कर्मयोगी ने संबोधित करते हुए बताया कि हिंदी दिवस प्रत्येक 14 सितंबर को भारत में मनाया जाता है
सर्वप्रथम वर्ष 1918 में महात्मा गांधी ने हिंदी साहित्य सम्मेलन में हिंदी भाषा को राष्ट्रभाषा बनाने के लिए कहा था इसे गांधी ने जनमानस की भाषा भी कहा था स्वतंत्र भारत की आजादी के बाद हिंदी को 14 सितंबर 1949 को काफी विचार-विमर्श के बाद भारतीय संविधान के भाग 17 के अध्याय की धारा 343 (1 ) में राजभाषा का दर्जा दिया गया लेकिन कुछ वर्षों तक इस पर सरकार निर्णय ले सके पहली बार 14 सितंबर 1953 को हिंदी दिवस संपूर्ण भारत में मनाया जाने लगा तभी से हिंदी दिवस मनाया जाता है
इस अवसर पर मुख्य अतिथि ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ स्वच्छ भारत अभियान शिक्षा स्वास्थ्य एवं भारतीय संस्कृति पर बच्चों को बौद्धिक ज्ञान देकर जीवन जीने की कला पर विस्तार से चर्चा की गई साथ ही अमृत महोत्सव नारी सशक्तिकरण मिशन शक्ति मतदाता जागरूकता तथा सड़क सुरक्षा जीवन रक्षा विषय पर विस्तार से समझाया गया बच्चों को भारतीय संस्कृति संस्कारों के साथ-साथ शिक्षा और विद्या के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई प्रधानाध्यापक प्रधानाचार्य द्वारा संस्था में पधारे समाजसेवी संतोष गंगेले के प्रति आभार व्यक्त किया गया।कार्यक्रम के अंत में सभी बच्चों को शिक्षा संस्कारों सड़क सुरक्षा को लेकर शपथ संकल्प दिलाया गया।

 

FROM AROUND THE WEB