स्वतंत्र प्रभात-भारतीय मूल की पत्रकार वंदना झिंगम लड़ेंगी अमेरिकी कांग्रेस का चुनाव

 

कमला हैरिस अमेरिकी सीनेट के लिए निर्वाचित होने वाली पहली भारतीय-अमेरिकी हैं जिनके माता-पिता भारत और जमैका से हैं.

खास बातें

  1. वंदना डेमोक्रेटिक पार्टी के भारतीय-अमेरिकी नेता राजा कृष्णमूर्ति (44) को चुनौती देंगी.

  2. कृष्णमूर्ति पिछले साल हुए चुनाव में पहली बार अमेरिकी कांग्रेस के लिए निर्वाचित हुए थे.

  3. वंदना शिकागो के एक उपनगरीय क्षेत्र से 2018 में अमेरिकी प्रतिनिधि सभा का चुनाव लड़ेंगी.

वॉशिंगटन: भारतीय-अमेरिकी पत्रकार वंदना झिंगम ने घोषणा की है कि वह शिकागो के एक उपनगरीय क्षेत्र से अगले साल अमेरिकी प्रतिनिधि सभा का चुनाव लड़ेंगी. वह डेमोक्रेटिक पार्टी के भारतीय-अमेरिकी नेता राजा कृष्णमूर्ति (44) को चुनौती देंगी जो पिछले साल हुए चुनाव में पहली बार अमेरिकी कांग्रेस के लिए निर्वाचित हुए थे. कृष्णमूर्ति को चुनौती देने वाली वंदना रिपब्लिकन पार्टी से दूसरी भारतीय-अमेरिकी हैं. पिछले महीने जितेंद्र ‘‘जेडी’’ दिगांवकर ने घोषणा की थी कि पार्टी से वह चुनाव लड़ेंगे. रोजगार दिलाने, वित्तीय जिम्मेदारी निभाने, पारिवारिक मूल्यों को बढ़ावा देने और कड़ी विदेश नीति का संकल्प करते हुए वंदना ने आठवें कांग्रेशनल जिले इलिनोइस से चुनाव लड़ने की घोषणा की.

दिगांवकर और वंदना दोनों को इलिनोइस के लिए आठ मार्च को होने वाले रिपब्लिकन प्राइमरी में जीत दर्ज करनी होगी जहां भारतीय-अमेरिकियों की आबादी अच्छी-खासी है. यह क्षेत्र पारंपरिक रूप से डेमोक्रेटिक पार्टी का गढ़ माना जाता है.

वंदना ने कहा, ‘‘मैंने 20 साल से अधिक समय से समुदाय की सेवा कर अपनी प्रतिबद्धता प्रदर्शित की है. मैं अमेरिका आई थी और मुझे ‘अमेरिकी सपने’ के साथ जीवन जीने का अवसर प्राप्त हुआ.’’ कृष्णमूर्ति के अतिरिक्त प्रतिनिधि सभा में वर्तमान में तीन अन्य भारतीय-अमेरिकी, कैलिफोर्निया से तीन बार के सदस्य डॉ. एमी बेरा और आर खन्ना तथा वाशिंगटन राज्य से प्रमिला जयपाल हैं. कमला हैरिस अमेरिकी सीनेट के लिए निर्वाचित होने वाली पहली भारतीय-अमेरिकी हैं जिनके माता-पिता भारत और जमैका से हैं.

recommend to friends

Comments (0)

Leave comment