स्वतंत्र प्रभात-बिटकॉइन मैं ICO के नाम पर लूट बिटकॉइन की ट्रेडिंग करने वालों की लिस्ट तैयार करने लगी ED

 

बिटकॉइन में इनिशियल कॉइन ऑफ रिंग ICO के नाम कंपनियां कर रही जालसाजी लोगों को बड़े-बड़े लुभावने अवसर देकर लोगों को इस ICO के चंगुल में फंसाया जा रहा है और कानून व्यवस्था और आयकर विभाग की आंखों में यह कंपनियां धूल झोंक रही है l

लेकिन सूत्रों के मुताबिक पता चला है की आयकर विभाग इस गोरखधंधे में लिप्त लोगों पर कार्रवाई में लग गई है ड्रग मनी व हवाला राशि में बिटकॉइन की संलिप्तता की बात सामने आने के बाद देश की सभी एजैंसियां सतर्क हो गई हैं।

बिटकॉइन की ट्रेडिंग करने वालों की जल्द ही शामत आने वाली । इंफोर्समैंट डायरैक्टोरेट (ई.डी.) ने बिटकॉइन की ट्रेडिंग करने वालों की लिस्ट तैयार करनी शुरू कर दी है।

ई.डी. की इस कार्रवाई के बाद बिटकॉइन की ट्रेडिंग करने वालों में हड़कंप मच गया है। ड्रग मनी में बिटकॉइन की संलिप्तता खंगालने में स्पैशल टास्क फोर्स (एस.टी.एफ.)भी जुट गई है। वहीं हवाला कारोबारियों के इस गोरखधंधे पर एजैंसियां पूरी नजर रख रही हैं। गौरतलब है कि क्रिप्टो करंसी बिटकॉइन ने देशभर में तहलका मचाया हुआ है। इसमें देश के लाखों लोग निवेश कर चुके हैं।

बिटकॉइन के रेट में अचानक वृद्धि के बाद तो यह चर्चा का विषय बना हुआ है। ‘पंजाब केसरी’ ने बिटकॉइन के जरिए देशभर में मनी लांड्रिंग व ड्रग मनी के चल रहे खेल का पर्दाफाश किया था। जालंधर के कई बड़े हवाला कारोबारी व ड्रग माफिया बिटकॉइन के जरिए ही अब पूरा खेल खेल रहे हैं। ई.डी. की सक्रियता के कारण पहले भी पंजाब में ड्रग माफिया और हवाला कारोबारियों के खेल का पर्दाफाश होता रहा है।

अब ड्रग माफिया ने पुलिस व ई.डी. के शिकंजे से बचने के लिए अपने खेल में कुछ बदलाव किए हैं। अब बिटकॉइन के जरिए ड्रग में पैसा लगाया जा रहा है। बिटकॉइन के जरिए ही ड्रग मनी का आदान-प्रदान किया जा रहा है। यही नहीं इसके जरिए हवाला राशि को भी इधर-उधर किया जा रहा है। गुजरात,अहमदाबाद,और पंजाब पुलिस को इस दो नंबर के खेल की भनक तक नहीं है।

DURGESH TIWARI
recommend to friends

Comments (0)

Leave comment