स्वास्थ्य मंत्री दौरा नहीं बल्कि अस्पतालों के बजट का करें इंतजाम -अखिलेश यादव

.मोहनलालगंज के समेसी के भवानीखेड़ा गांव पहुंचकर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने पूर्व जिलाध्यक्ष व लोकतंत्र सेनानी राम स्वरूप यादव की प्रतिमा का किया अनावरण

 
 स्वास्थ्य मंत्री दौरा नहीं बल्कि अस्पतालों के बजट का करें इंतजाम -अखिलेश यादव

स्वतंत्र प्रभात 

लखनऊ  

पूर्व मुख्यमंत्री व सपा मुखिया अखिलेश यादव ने सोमवार को मोहनलालगंज के नगराम के समेसी के भवानीखेड़ा गांव पहुंचकर पूर्व जिलाध्यक्ष व लोकतंत्र सेनानी स्व० राम स्वरूप यादव की मूर्ति का अनावरण किया।बीते वर्ष कोरोना काल के दौरान राम स्वरूप यादव का निधन हुआ था। सपा प्रमुख अखिलेश  यादव ने स्वास्थ्य मंत्री ब्रजेश पाठक पर जमकर निशाना साधा। उन्होने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री को दौरा नहीं करना चाहिए। अस्पतालों की व्यवस्था नही ठीक उसके लिए स्वास्थमंत्री को बजट की व्यवस्था करनी चाहिए।

स्वास्थ्य व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए सपा मुखिया ने कहा कि अगर बजट केजीएमयू, लोहिया, सिविल, बलरामपुर जैसे राजधानी के अस्पतालों में नही होगा तो प्रदेश के दूसरे अस्पतालों का क्या हाल होगा। पहले मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को अस्पतालों को बजट देना चाहिए तब जाकर बेहतर इलाज मिलेगा लोगो को।बिजली संकट पर सवाल उठाते अखिलेश यादव ने कहा भाजपा ने चुनाव में कहा कि किसानों को अगले 5 साल बिजली बिल नहीं देना पड़ेगा पर अब कह रहे हैं कि हर एक उपभोक्ता भुगतान करे तभी आपूर्ति होगी। वहीं उन्होंने आगे कहा ये सरकार बताए कि सपा के समय में जो उत्पादन क्षमता बढ़ी थी, उसमें इस सरकार ने कोई बढ़ोत्तरी क्यों नहीं करी व जनता पर बिजली संकट क्यों 

थोपा।उन्होने कहा भाजपा सरकार मे बीते पांच सालो में बेरोजगारों को कोई रोजगार या नौकरी नहीं मिला, क्रय केंद्रों पर किसानों का गेहूं नहीं तौला जा रहा है ।सपा प्रमुख ने स्वर्गीय राम स्वरुप सिहं यादव के बेटे कुलदीप सिंह यादव व पुत्र वधू अंजू यादव को हर दु:ख दर्द में साथ खड़ा होने का भरोसा दिलाया। इस मौके पर सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल,पूर्वमंत्री राजेंद्र चौधरी,पूर्व मंत्री आर के चौधरी,पूर्व सासंद सुशीला सरोज,पूर्व विधायक अम्ब्रीश पुष्कर,वरिष्ठ नेता अमर पाल सिंह,जिलाध्यक्ष जय सिंह जयंत,वरिष्ठ अधिवक्ता श्रवण यादव
शमशेर यादव समेत काफी संख्या में क्षेत्रीय लोग व सपा कार्यकर्ता मौजूद रहे।

चंदौली की घटना में पुलिस पर दर्ज हो हत्या का मुकदमा......

उत्तर प्रदेश के चंदौली में दबिश के दौरान बेटी की मौत के बाद सूबे का सियासी पारा चढ़ गया है। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने घटना को लेकर सीधे योगी सरकार और मुख्यमंत्री पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री की जाति के अधिकारी ने सबकुछ जानबूझकर किया। उसे पता था कि वहां अपराधी नहीं है, इसके बाद भी घर में घुसा और तांडव मचाया।आरोप लगाते हुए सपा अध्यक्ष ने कहा पुलिस ने जाति के आधार पर घटना की है और वहां के इंस्पेक्टर या पुलिस के लोगों ने डराने के लिए ये किया है। अगर लड़की की जान गई है तो इन पुलिसवालों पर 302 का मुकदमा दर्ज होना चाहिए, इन्हीं की वजह से जान गई है।

जाति-धर्म के आधार पर भेदभाव कर रही सरकार.....
वही लाउडस्पीकर उतारने पर अखिलेश ने कहा कि शुरुआत तो मुसलमानों के लाउडस्पीकर उतारने के लिए हुई थी लेकिन इन्होंने तो अपने भी लाउडस्पीकर हटा दिया। मुख्यमंत्री और सरकार तो अपने को हिंदूवादी सरकार बोलती हैं आखिरकार फिर क्यो मंदिरों के लाउडस्पीकर हटा दिए। लाउडस्पीकर हटाने वाली सरकार ये बताए ये नौजवानों को नौकरी और रोजगार कब देगी।

बुलडोजर’ सिर्फ डराने के लिए......

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुलडोजर को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा बुलडोजर सिर्फ डराने के लिए चलाया जा रहा है। हमनें पहले भी कहा है कि ये सरकार संविधान के नियमों और कानूनों को नहीं मानती। ये बात अब साबित हो गई है।


 

FROM AROUND THE WEB