ग्राम प्रधान, सचिव व तकनीकी सहायक की अभी तक नही हो सकी गिरफ्तारी

 
ग्राम प्रधान, सचिव व तकनीकी सहायक की अभी तक नही हो सकी गिरफ्तारी


स्वतंत्र प्रभात
भीटी अंबेडकर नगर। 

ग्राम प्रधान, सचिव व तकनीकी सहायक के खिलाफ दर्ज मुकदमे में  अभी तक किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हो पाई। आपको बता दे भीटी विकासखंड के ग्राम पंचायत परवरभारी में विकास कार्यों में अनियमितता की शिकायतों की जांच रिपोर्ट उपायुक्त स्वरोजगार आरबी यादव के करने के उपरांत जिला अधिकारी के समक्ष प्रेषित कर दिया था। मनरेगा के तहत हुए 3 कार्यों की शिकायत भीटी विकासखंड के दुबाने का पूरा निवासी विवेक धर द्विवेदी ने आईजीआरएस और जिलाधिकारी के जनता दर्शन में कई बार किया था। 

एडीओ पंचायत भीटी को मिली जांच में लीपापोती करके सब कुछ सही कर दिया था।लेकिन शिकायतकर्ता विवेकधर द्विवेदी ने हार नहीं मानी और इसकी शिकायत जिलाधिकारी के जनता दर्शन में किया।जिसके बाद जिलाधिकारी ने जीआरयस  एमके सिंह को जांच के लिए भेजा था। लोक निर्माण विभाग के जेई एमके सिंह ने 23 अप्रैल को जांच की तो कई बड़े खुलासे सामने आए, गोकर द्विवेदी के घर से इंटरलॉकिंग सड़क की लंबाई 100 मीटर के बजाय 92 मीटर ही पाई गई। सड़क का बेस बनाने में मोरंग बालू और सीमेंट का प्रयोग न करके स्थानीय मिट्टी और बालू डाली गई थी।

जांच अधिकारी ने बताया कि रिपोर्ट डीएम के समक्ष हूबहू स्थिति में पेश कर दी गई थी।उक्त जांच रिपोर्ट में बिना कार्य पूर्ण किए 81686 रुपए निकाल लिए गए थे।दूसरी तरफ मठिया मजरे में बिना इंटरलॉकिंग का कार्य किए जिसमें 24203 रुपए की निकासी की गई थी। सरदारगढ़ में इंटरलॉकिंग कार्य संतोषजनक पाया गया था।उक्त जांच टीम में अवर अभियंता एमके सिंह के साथ उपायुक्त  स्वरोजगार और खंड विकास अधिकारी भीटी  तकनीकी सहायक, शिकायतकर्ता विवेक धर दुबे भी मौजूद रहे इसके पूर्व में एडीओ पंचायत भीटी के द्वारा जांच की गई थी। जिसमें लीपापोती की गई थी।

इसकी शिकायत विवेक धर द्विवेदी ने जिलाधिकारी से जनता दर्शन में किया था।उक्त जांच के आधार पर मुख्य विकास अधिकारी अंबेडकरनगर घनश्याम मीणा के निर्देश पर खंड विकास अधिकारी भीटी की लिखित तहरीर पर भीटी थाने में ग्राम पंचायत परवरभारी के ग्राम प्रधान रोहित यादव ग्राम विकास अधिकारी शुशील शाह और तकनीकी सहायक राम सुरेश उपाध्याय के खिलाफ तहरीर दी गई थी।

जिसके क्रम में प्रभारी निरीक्षक भीटी संजय कुमार पांडे ने प्रभारी ग्राम प्रधान और प्रधान संघ भीटी अध्यक्ष रोहित यादव ग्राम पंचायत के पंचायत सचिव सुशील कुमार और तकनीकी सहायक सुरेश उपाध्याय के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।वहीं भीटी विकासखंड बनगांव के बाद एक बार फिर से पूरे जिले में सुर्खियों में आ गया है। जब प्रधान संघ का अध्यक्ष ही मनरेगा और ग्राम पंचायत के तहत होने वाले विकास कार्यों में इतना बड़ा घोटाला कर रहा है तो और ग्राम प्रधानों की दशा भगवान के भरोसे है।
 

FROM AROUND THE WEB