एसडीएम ने कस्तूरबा विद्यालय की गंदगी को देख वार्डेन को लगाई फटकार

Kaptanganj News 
 
Sdm kaptanganj
एसडीएम कल्पना जायसवाल ने कस्तूरबा विद्यालय की औचक निरीक्षण
प्रमोद रौनियार

कुशीनगर, उत्तर प्रदेश।

जिले के तहसील कप्तानगंज उपजिलाधिकारी ने अचानक कस्तूरबा विद्यालय रामकोला में जांच करने पहुच गई। यहा के वार्डेन से हॉस्टल में रहकर पढ़ाई कर रही जूनियर हाई स्कूल की छात्राओं की रहन सहन व खानपान की जानकारी ली। जांच में पाई कि विद्यालय के शौचालय रसोईघर कमरा गंदगी से पटा हुआ है। जिसपर वार्डेन को फटकार लगाकर व्यवस्था साफसुथरा रखने की सख्त हिदायत दी। इसके बाद यहा की छात्राओं की नियमित स्वस्थ्य जांच करवाने की भी निर्देश दिया।

बताते चले कि कस्तूरबा विद्यालय रामकोला में कक्षा 6,7 व 8 में गरीब घर की 80 छात्राएं यहां नियमित रूप से रहकर शिक्षा ग्रहण करती है। जिनकी खानपान व रहकर पढाई करने में आये खर्चो का वजन सरकार करती है। इन बच्चियों की देखभाल व पढ़ाई की जिम्मेदारी के लिए वार्डेन की होती है। जिनके सहयोग में कुछ सहायक शिक्षिकाएं भी रखी गयी है ।

उपजिलाधिकारी कप्तानगंज कल्पना जायसवाल ने बीते दिन मंगलवार को लेखपाल योगेन्द्र गुप्ता के साथ कस्तूरबा विद्यालय रामकोला में औचक निरक्षण करने पहुची। विद्यालय के वार्डेन शुषमा के साथ यहा पर रहकर शिक्षा ग्रहणकर रही छात्राओं से हर एक पहलुओं पर जानकारी ली। यहा पर बच्चियों के खाने-पीने की जगह देखा जहा पर गन्दगी व नीचे बैठाकर खाना खिलाने पर वार्डेन को फटकार लगाई और विद्यालय के शौचालय ,रसोईघर और कमरों में गन्दगी देख वार्डेन को अपनी आदतों के सुधार लाने की बात कही।निरीक्षण के दौरान अध्यापिका स्वाति शुक्ला,इसरावती कुशवाहा मौजूद रही।

FROM AROUND THE WEB