स्वतंत्र प्रभात-वाराणसी में गिरे ओवर ब्रिज में सेतू निगम की घोर लापरवाही

ब्यूरो वाराणसी,कल शाम हुए ओवर ब्रिज हादसे में सेतु निगम व उनके अधिकारियों की घोर लापरवाही सामने आई है।जो ओवरब्रिज गिरा उसे स्लाईडर पर रखा गया था,और उसे चारो तरफ से बेरीकेट भी नहीं किया गया था,ब्रिज के दोनों तरफ भी कोई बेरीकेडिंग नहीं थी,न कोई ट्रैफिक पुलिस, न कोई सेतू निगम का आदमी सभी मस्ती में काम कर रहे थे,रूट भी डाईवर्ट नहीं किया गया था और न ही रात में काम करने को पप्राथमिकता दी गई।पिछले काफी दिनों से लगातार चेतावनी को दरकिनार कर सेतू निगम मस्ती में काम कर रहा था।जिसका परिणाम कल दर्दनाक हादसे के रुप में काशीवासियों के सामने आया।और 70लोग काल के गाल में समा गये।योगी जी को तुरंत ही सभी लापरवाह इंजीनियर व स्टाफ को बर्खास्त कर देना चाहिए।एक बार बंगाल में ब्रिज गिरा तो मोदी जी ने कहा था कि इसे ईश्वर का संकेत समझना चाहिए कि बंगाल को तृणमूल कांग्रेस से मुक्त कराने का समय आ गया है।अब वही हादसा बनारस में हुआ है,मोदी जी इसे क्या समझा जाए।इस समय पूरा बनारस जाम के झाम में फँसा है,हर रोज सडकें खुदती हैं,रोज आए दिन बनारस में सडकें धसती हैं,आखिर इन सबकी जिम्मेदारी लेगा कौन?कब सुधरेगी बनारस की दशा?

DURGA SHANKAR SINGH
recommend to friends

Comments (0)

Leave comment