तीन माह से उमस भरी गर्मी में इलाज करने को मजबूर

इस संबंध में बिजली विभाग के एसडीओ से बात की गई तो उन्होंने बताया कि बकाया करीब दो लाख रुपये के ऊपर है इसलिए बिजली काट दी गई है 
 
तीन माह से उमस भरी गर्मी में इलाज करने को मजबूर 

स्वतंत्र प्रभात

भीटी अंबेडकर नगर एक तरफ जहां सरकार गांव में घर घर उजाला करने की व्यवस्था कर रही है गांव-गांव बिजली पहुंचाने की व्यवस्था की जा रही है। वहीं दूसरी तरफ सरकार के सरकारी राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय भीटी की बिजली बकाया बिल न जमा होने के कारण बिजली विभाग द्वारा काट दी गई है।बिजली कटने से बिना पंखा चलाएं डॉक्टर को रहना पड़ता है और विगत 3 माह से उमस भरी गर्मी से सभी लोग बेहाल है ऐसे में सरकार के सरकारी डॉक्टर कंपाउंडर हवा के लिए तरस रहे हैं।

उल्लेखनीय है राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय भीटी की बिजली बिल अधिक बकाया हो जाने के कारण बिजली विभाग के द्वारा लगभग ढाई महीने पूर्व काट दी गई।मीटर उखाड़ लिया गया लेकिन इसके बाद भी विभाग पूरी तरह से मौन है डॉक्टर कंपाउंडर वहां पहुंचने वाले मरीज सब पवन देव के सहारे आश्रित हैं।इस संबंध में बिजली विभाग के एसडीओ से बात की गई तो उन्होंने बताया कि बकाया करीब दो लाख रुपये के ऊपर है इसलिए बिजली काट दी गई है।

   

FROM AROUND THE WEB