मैं ही यस एच ओ हूं मैं ही थाने का सब कुछ उपनिरीक्षक जितेंद्र सिंह रघुवंशी

क्षेत्राधिकारी आलापुर एवं पुलिस अधीक्षक से की है और कहा है कि यदि मेरे भाई एवं उसके साथियों के ऊपर कार्यवाही नही की गई तो परिजनों के साथ कोई भी अप्रिय घटना हो सकती है , 
 
 मैं ही यस एच ओ हूं मैं ही थाने का सब कुछ  उपनिरीक्षक जितेंद्र सिंह रघुवंशी

स्वतंत्र प्रभात

आलापुर अंबेडकरनगर मैं ही यस एच ओ हूँ और मैं ही थाने का सबकुछ हूँ  उक्त बातें थाना राजेसुल्तानपुर में तैनात उपनिरीक्षक जितेन्द्र सिंह रघुबंशी ने थाना क्षेत्र राजेसुलतानपुर अंतर्गत ग्राम सरैया बलरामपुर निवासिनी पीड़िता को धमकी भरे लहजे में कही और न्याय के लिए आई पीड़िता को ही लाकअप में बन्द कर दिया।मालूम हो थाने में तैनात उप निरीक्षक जितेंद्र सिंह रघुवंशी ने पीड़िता को ही लॉकआप में डालकर उसे भद्दी भद्दी गालियां देकर थाने से भगा दिया।महिला सुरक्षा के नाम पर उत्तर प्रदेश सरकार भले ही लाख दावे करती हो लेकिन थाना राजेसुलतानपुर में उप निरीक्षक जितेंद्र सिंह रघुवंशी महिला सुरक्षा की खुलेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं। जिससे सरकार की छवि पर असर पहुंचेगा पीड़ित महिला रिया सोनी जो विधवा है और अपने तीन बच्चों को लेकर मायके में मां बाप के साथ रहती हैं।पीड़िता का आरोप है कि उसका भाई

संजय सोनी जो शराबी है और शराब पीकर के घर में मारपीट करता है शिकायत लेकर तीन अबोध बच्चों तथा अपने माँ,बाप एक छोटी बहन व भाई को लेकर जब बीती 26 तारीख को थाने पहुंची तो पीड़िता की बात न सुनकर उपनिरीक्षक ने पीड़िता को ही चार घंण्टे लॉकअप में डाल दिया और बिना कोई कार्यवाही किये भद्दी भद्दी गलियां देकर थाने से भगा दिया। भाई द्वारा घर से बाहर निकाल देने और दरवाजे पर ताला लगा देने से पूरा परिवार खुले आसमान के नीचे रहने पर मजबूर था। इतना ही नहीं पीड़िता अपने बच्चों के भरण-पोषण के लिए आजमगढ़ में नौकरी करती थी। वहां फोन करके उसके चाल चरित्र पर आरोपित करते हुए उसको नौकरी से भी निकलवा दिया।पीड़ित महिला के फोन में रखें उपनिरीक्षक के खिलाफ साक्ष्य को भी अपने थाने के कम्प्यूटर में डालकर डीलीट करवा दिया। महिला इस बात की शिकायत क्षेत्राधिकारी आलापुर एवं पुलिस अधीक्षक से की है और कहा है कि यदि मेरे भाई एवं उसके साथियों के ऊपर कार्यवाही नही की गई तो परिजनों के साथ कोई भी अप्रिय घटना हो सकती है ।

   

FROM AROUND THE WEB