सरकार की ओर से दी जाने वाली वृद्धा पेंशन वृद्धजन के लिए संजीवनी से कम नहीं है

अब वृद्धाश्रम भी भी सरकार की सभी योजनाओं से संतृप्त होंगे सरकार की ओर से दी जाने वाली वृद्धा पेंशन वृद्धजन के लिए संजीवनी से कम नहीं है। वृद्धाश्रम में रहने, खाने व मनोरंजन की सुविधा है सरकार जेब खर्च के साथ स्वास्थ्य सुविधा भी मुहैया कराएगी 

 
सरकार की ओर से दी जाने वाली वृद्धा पेंशन वृद्धजन के लिए संजीवनी से कम नहीं है

स्वतंत्र प्रभात


मीरजापुर समाज कल्याण विभाग की ओर से विंध्याचल के पटेंगरा नाला के पास संचालित वृद्धाश्रम (वृद्धजन आवास) का मंगलवार को समाज कल्याण विभाग निदेशक उत्तर प्रदेश राकेश कुमार ने निरीक्षण कर व्यवस्था परखी। वृद्धाश्रम के अधीक्षक को व्यवस्था चाक-चौबंद रखने का निर्देश दिया। साफ-सफाई के साथ किचन देखा और रिकार्ड भी खंगाला।वृद्धाश्रम की व्यवस्था से निदेशक संतुष्ट दिखे। निदेशक ने वृद्धजन को वृद्धा पेंशन योजना का लाभ दिलाने के साथ आयुष्मान भारत हेल्थ आइडी बनवाने को कहा। वृद्धाश्रम अधीक्षक संजय शर्मा ने बताया कि वृद्धाश्रम में 84 वृद्ध पंजीकृत हैं। इसमें से 50 वृद्ध वृद्धा पेंशन से संतृप्त हैं। 11 वृद्धजन को जल्द ही वृद्धा पेंशन मिलने लगेगा। इसकी प्रक्रिया चल रही है। 23 वृद्धजन अपात्र हैं। इनमें से 18 वृद्धजन गैर जनपद व प्रांत से हैं। ऐसे में इन्हें

वृद्धा पेंशन योजना का लाभ नहीं मिलेगा। हालांकि वृद्धाश्रम में सभी सुविधाएं दी जा रही हैं। निदेशक ने निश्शुल्क चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने के उद्देश्य से आयुष्मान भारत हेल्थ आइडी बनाने का निर्देश दिया। वृद्धाश्रम अधीक्षक ने बताया कि अब तक 10 वृद्धजन का आयुष्मान कार्ड बनवाया जा चुका है। मुख्य चिकित्साधिकारी से समन्वय स्थापित कर वृद्धाश्रम में कैंप लगाकर आयुष्मान भारत हेल्थ आइडी बनाया जाएगा। निदेशक ने वृद्धजन से बातचीत कर उनका हाल जाना रहने-खाने व मनोरंजन के साथ अन्य सुविधाओं के बारे में पूछा। वृद्धजन ने सबकुछ ठीक बताया। इस दौरान जिला समाज कल्याण अधिकारी गिरीश कुमार दुबे मौजूद रहे।

   

FROM AROUND THE WEB