निजी प्रेक्टिस करने वाले डाक्टर कमजोर वर्ग के लिये कुछ समय निकालें - डॉ विवेक

 राजधानी लखनऊ के त्वचा रोग विशेषज्ञ डा०विवेक कुमार त्वचा रोग मरीजों के लिए मसीहा साबित हुए ।

 
निजी प्रेक्टिस करने वाले डाक्टर कमजोर वर्ग के लिये कुछ समय निकालें - डॉ विवेक


जिला संवाददाता
(विनीत कुमार मिश्रा)


मोहनलालगज /लखनऊ

राजधानी लखनऊ के त्वचा रोग विशेषज्ञ डा०विवेक कुमार त्वचा रोग मरीजों के लिए किसी देवता से कम नहीं है । स्किन व चर्म रोग विशेषज्ञ डाक्टर विवेक कहते है कि वो पिछले तीस सालों से सप्ताह में दो दिन अपनी निजी क्लिनिक को छोड़कर मोहनलालगज स्थित मिशनरीज सेंटर में जाकर ऐसे मरीजो को देखते है जो निजी क्लिनिक फीस तो दूर शहर तक का खर्च भी नही उठा सकते है ।

स्किन चर्म रोग विशेषज्ञ डाक्टर विवेक ने  बताया कि निजी अस्पतालों और निजी क्लीनिक चलाने वाले डॉक्टरों को भी ग्रामीण इलाके में गरीबो के बीच जाकर उनकी बीमारियों देखकर समझकर इलाज करना चाहिए इससे गरीबो को इलाज भी मिलेगा और डॉक्टरों को नई-नई समस्याओं के बारे में सीखने को मिलेगा।ये बाते पिछले तीस सालों से गरीबो के बीच आकर निःशुल्क इलाज करने वाले ऐसे मरीजो को देखकर उनकी बीमारी समझकर उन्हें निःशुल्क दवाएं उपलब्ध कराते चले आ रहे है।

इन तीस वर्षों में स्किन से जुड़े बड़े से बड़े जटिल बीमारियों को देखा जो उन्हें अपनी निजी क्लिनिक में देखने को नही मिली ऐसे उन्हें दो फायदे हुए एक तो गरीबो का इलाज कर एक अलग सुकून की अनुभूति हुई साथ बहुत सारी नई बीमारियों को देखकर कुछ नया सीखने को भी मिला।इसीलिए मेरी निजी अपील और राय की विभिन्न रोग विशेषज्ञ सप्ताह में एक दिन का कुछ समय निकालकर ग्रामीण इलाकों में जाकर कैम्प के माध्यम से गरीबो की मदद करने के साथ कुछ नया सीखे इससे गरीबो की मदद के साथ डॉक्टरों को बहुत कुछ सीखने को मिलेगा।


 

FROM AROUND THE WEB