योगी सरकार के एक और विकेट गिरा मंत्री दारा सिंह चौहान का भी इस्तीफा

 
योगी सरकार के एक और मंत्री दारा सिंह चौहान का इस्तीफा

उत्‍तर प्रदेश की योगी आदित्‍यनाथ सरकार और बीजेपी को 24 घंटों के अंदर ही दूसरा झटका लगा है. स्‍वामी प्रसाद मौर्य के बाद योगी सरकार के एक और मंत्री व ओबीसी नेता दारा सिंह चौहान ने इस्‍तीफा दे दिया है. पिछले 24 घंटों में यानी कल से छह नेता पार्टी छोड़ चुके हैं.

लखनऊ:

उत्‍तर प्रदेश की योगी आदित्‍यनाथ सरकार और बीजेपी को 24 घंटों के अंदर ही दूसरा झटका लगा है. स्‍वामी प्रसाद मौर्य के बाद योगी सरकार के एक और मंत्री व ओबीसी नेता दारा सिंह चौहान ने इस्‍तीफा दे दिया है. पिछले 24 घंटों में यानी कल से छह नेता पार्टी छोड़ चुके हैं.

 दारा सिंह चौहान के समाजवादी पार्टी से जुड़ने की संभावना जताई जा रही है. राजनीतिक दृष्टि से देश के सबसे अहम राज्‍य यूपी में विधानसभा चुनाव के ठीक पहले बीजेपी के लिए यह बड़ा झटका माना जा रहा है. दो दिनों में दो मंत्री और चार विधायक पार्टी छोड़ चुके हैं. राज्‍य में फिर से सत्‍ता हासिल करने के लिए योगी आदित्‍यनाथ के नेतृत्‍व वाली बीजेपी को इस बार अखिलेश यादव से कठिन चुनौती मिल रही है.

गौरतलब है कि इससे पहले, कल योगी आदित्‍यनाथ सरकार के श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने बीजेपी का दामन छोड़ दिया था. मौर्य, उत्तर प्रदेश में ओबीसी का बड़ा चेहरा माने जाते हैं. उनके साथ ही बीजेपी के चार और विधायकों ने पार्टी छोड़ने का फ़ैसला किया, जिनमें बृजेश प्रजापति, रोशन लाल, भगवती सागर, और विनय शाक्य शामिल हैं.

अपने इस्‍तीफा वाले पत्र में चौहान ने लिखा है, 'मैंने पूरे समर्पण के साथ काम किया लेकिन पिछड़े, वंचित वर्ग, दलितों, किसानों और बेरोजगार युवकों के प्रति  सरकार के रवैये और पिछड़ों-दलितों के लिए आरक्षण को लेकर उपेक्षापूर्ण रवैये से आहत होकर मैं इस्‍तीफा दे रहा हूं.'  

अन्‍य पिछड़ा वर्ग (OBC)के प्रभावी नेता और पांच बार के विधायक स्‍वामी प्रसाद मौर्य ने मायावती की बीएसपी  छोड़ने के बाद 2017 में बीजेपी ज्‍वॉइन की थी. वह अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी का मुकाबला करने के लिए ओबीसी वोटर्स को आकर्षित करने की बीजेपी की योजना कें केंद्र बिंदु थे.
नितिन गडकरी का दावा, 'यूपी में पिछली बार से भी अच्छी जीत मिलेगी'

FROM AROUND THE WEB