राष्ट्रीय सचिव अयाज खां की सक्रियता, अन्य दावेदारों की बढ़ा सकती है मुश्किलें

प्रदेश में विधानसभा चुनाव की रणभेरी बजने के साथ राजनीतिक पार्टियों में टिकट को लेकर मशक्कत तेजी से चल रही है।
 
राष्ट्रीय सचिव अयाज खां की सक्रियता, अन्य दावेदारों की  बढ़ा सकती है मुश्किलें

स्वतंत्र प्रभात 

 फतेहपुर-बाराबंकी।

आगामी कुर्सी विधानसभा चुनाव को लेकर क्षेत्र के सभी राजनीतिक दलों मैं टिकट के लिए गणेश परिक्रमा शुरू हो चुकी है। कौन-कौन से लोग मैदान में उतरेंगे. इसे लेकर कयास लगाए जा रहे हैं. सभी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व जमीनी स्तर पर सर्वे व फीडबैक में व्यस्त हैं। नगर पंचायत बेलहरा चेयरमैन प्रतिनिधि व सपा युवजन सभा के राष्ट्रीय सचिव अयाज खां अनवरत जनसंपर्क अभियान से अन्य दावेदारों के लिए चिंता का विषय बन चुके है।

   प्रदेश में विधानसभा चुनाव की रणभेरी बजने के साथ राजनीतिक पार्टियों में टिकट को लेकर मशक्कत तेजी से चल रही है। कुर्सी विधानसभा 266 सीट को लेकर सपा-भाजपा में भी इन दिनों टिकट अभ्यर्थियों की कतार लगी हुई। चर्चाओं के बाजार में रोजाना नए नाम सामने आ रहे हैं और समीकरण बन-बिगड़ रहे हैं। इस माहौल के बीच स्वच्छता और स्वच्छ उम्मीदवार पूर्व सपा मंत्री फरीद महफूज किदवई क्षेत्र में सपा पार्टी के प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं. इनके अलावा पिछले दिनों से सपा पार्टी के कई लोग दावेदारी में लगे रहे, और लगे हुए हैं। वहीं नगर पंचायत बेलहरा चेयरमैन प्रतिनिधि अयाज खां ने मीडिया से बात रखते हुए कहा, भाजपा ने महिलाओं की पेंशन के साथ-साथ उनका हक भी छीन लिया है। सपा सरकार बनने के बाद महिलाओं को तीन गुनी पेंशन दी जाएगी। भाजपा सरकार से किसान नौजवान के साथ आम आदमी भी बेतहाशा परेशान हैं। कोरोना में जब लोगों को दवाई की जरूरत थी 

तब भाजपा सरकार न दवा दे पायी, और ना ही बिस्तर. समय पर ऑक्सीजन और दवा मिल जाती तो ना जाने कितने लोगों की जान बच जाती। भाजपा ने पुरानी पेंशन मांगने वाले शिक्षामित्रों को अपमानित किया है. वह लोग अपने हक की लड़ाई लड़ रहे थे भाजपा ने लोगों की नौकरी छीन कर सभी को बेरोजगार कर दिया। और उन्होंने कहा हमारी पहली प्राथमिकता में राजनीतिक अनुभव रखने वाले पिता तुल्य फरीद क़िदवई को चुनाव जीता कर दुबारा मंत्री बनाना है. अगर पार्टी हाईकमान अखिलेश यादव यूथ को कुर्सी विधानसभा से चुनाव लड़ाना चाहते हैं. तो उसका दूसरा प्रबल दावेदार स्वयं मैं हूं. कुर्सी क्षेत्र का विकास 80 किलोमीटर दूर बैठे बाहरी लोग नहीं कर सकते. जिनका मैं नाम नहीं लेना चाहता, अगर हाईकमान का आदेश होगा तो कुर्सी विधानसभा में सपा पार्टी की प्रचंड जीत दिलाकर, जनपद में सपा का परचम फहराया जाएगा।

   

FROM AROUND THE WEB