तिलहर विधायक रोशनलाल वर्मा का भाजपा से इस्तीफा

स्वामी प्रसाद मौर्या के साथ इस्तीफा देने वालों में तिलहर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक रोशनलाल वर्मा भी शामिल!
 
तिलहर विधायक रोशनलाल वर्मा का भाजपा से इस्तीफा

 
शाहजहांपुर,

उत्तर प्रदेश की राजनीति में शाहजहांपुर की तिलहर विधानसभा सीट महत्वपूर्ण मानी जाती है। इस सीट पर मुकाबला हमेशा दिलचस्प होता रहा है, 2017 के चुनाव में भाजपा के रोशन लाल वर्मा ने कांग्रेस के प्रत्याशी जितिन प्रसाद को 5705 वोटों से हराया था।

 इस चुनाव में सपा कांग्रेस गठबंधन में यह सीट कांग्रेस के खाते में गई थी.कांग्रेस ने यहां से दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद को मैदान में उतारा था.अब जितिन प्रसाद के भाजपा में आने से 2022 का मुकाबला रोचक हो गया है।

तिलहर विधानसभा सीट का इतिहास!


तिलहर विधानसभा क्षेत्र में पहला चुनाव 1957 में हुआ था.इस चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी बालक राम ने जीत हासिल की थी.वहीं 1962 में भगवान सहाय इस सीट पर काबिज हुए थे.1967 और 1969 में कांग्रेस के सुरेन्द्र विक्रम सिंह ने तिलहर विधानसभा सीट से जीत हासिल की थी।

1974 में सत्यपाल सिंह यादव ने जनसंघ से 1977 में कांग्रेस और 1980 में जेएनपी के बाद 1985 में एलकेडी से लगातार चार बार इस सीट पर जीत हासिल की थी। 1989 में कांग्रेस से सुरेंद्र विक्रम सिंह एक बार फिर तिलहर विधानसभा सीट से विधायक बने थे।

 
मुलायम सिंह यादव भी तिलहर विधानसभा सीट से लड़ चुके हैं चुनाव!

तिलहर विधानसभा सीट से 1991 के उपचुनाव में मुलायम सिंह यादव ने जीत हासिल की थी.इस उपचुनाव में मुलायम सिंह यादव ने तिलहर विधानसभा और जसवंतनगर 2 सीटों पर चुनाव लड़ा था और दोनों सीटें जीत ली थी। तिलहर की जनता ने मुलायम सिंह यादव को बड़ी ही उम्मीदों से जिताया था.लेकिन उन्होंने तिलहर को ठुकरा कर जसवंतनगर को अपनाया था।

 तिलहर सीट से वर्तमान भाजपा विधायक रोशनलाल वर्मा 2012 में बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर विधायक बने थे.इस चुनाव में बहुजन समाज पार्टी को 71122 वहीं समाजवादी पार्टी के अनवर अली को 60 415 जबकि कांग्रेस की सुनीता को 37113 और भाजपा की रागिनी सिंह को 6905 वोट मिले थे.वर्तमान भाजपा विधायक रोशनलाल वर्मा 10707 वोटों से चुनाव जीते थे।

 2017 के चुनाव में बहुजन समाज पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल होकर रोशन लाल वर्मा ने तिलहर विधानसभा सीट से 5705 वोटों से जीत हासिल की थी। इस चुनाव में वर्तमान भाजपा विधायक रोशनलाल वर्मा को भाजपा के टिकट पर 81770 कांग्रेस के जितिन प्रसाद को 76065 बसपा के अवधेश कुमार वर्मा को 31418 वोट मिले थे। तिलहर विधानसभा सीट से जीते विधायक को पहली बार सत्ता नसीब हुई थी।

 बीते दिवस लखनऊ में स्वामी प्रसाद मौर्या के साथ इस्तीफा देने वालों में तिलहर सीट से भाजपा विधायक रोशनलाल वर्मा ने भी भारतीय जनता पार्टी से इस्तीफा दे दिया है।

FROM AROUND THE WEB