सरकारी हैण्डपंप में लगाया निजी सबमर्सिबल पंप

सरकारी हैण्डपंप में लगाया निजी सबमर्सिबल पंप

सरकारी हैण्डपंप में लगाया निजी सबमर्सिबल पंप

 

 जिला संवाददात नरेश गुप्ता की रिपोर्ट

अटरिया सीतापुर ,सासन ने सीतापुर सिधौली के अटरिया छेत्र के ग्राम पंचायत  लहु रिवान में ग्रामीणों के लिए सरकारी हैण्डपंप लगाया गया है। हैण्डपंप में गांव के ही व्यक्तितियो सहित कोटेदार राजकुमार ने अपना प्राइवेट सबमर्सिबल पंप फिट कर दिया और पंप स्टार्ट करने का बटन अपने घर के अंदर में लगा दिया है।


ग्राम पंचायत लहु रिवान सरकारी गल्ले की दुकान के सामने सड़क किनारे सार्वाजनिक निस्तार के लिए सरकारी हैण्डपंप का उत्खनन  वर्षो पहले कराया गया है। हैण्डपंप से ग्रामीणों सहित बाजार हाट करने आने जाने वाले राहगीरों को पानी मिलता था। लेकिन गांव के  कोटेदार राजकुमार सहित सरकारी प्राथमिक विद्यालय समेत ग्राम पंचायत के अधिकांश हैण्ड पम्पो मे अपना प्राइवेट सबमर्सिबल पंप फिटकर स्टार्ट बटन घर के अंदर लगाया हुआ है। 

  हैण्डपंप में मोटर लगने से हैण्डल चलाने में लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।  ग्रामीणों का कहना है कि अगर हैण्डपंप से मोटर पंप निकाला जाए। ताकि ग्रामीणों को पानी के लिए किसी प्रकार की परेशानियों का सामना करना न पड़े। इस संबंध में पंप लगाने वाले कोटेदात राजकुमार का कहना है कि हैण्डपंप में पंप लगाने के किसी ग्रामीण को परेशानी नहीं हो रही है। अगर किसी ग्रामीण को पीने के पानी के लिए परेशानी होगी तो पंप को निकाल दिया जाएगा।

हैण्डपंप में प्राइवेट पंप फिट करने की जानकारी मिली है। लेकिन हैण्डपंप में प्राइवेट पंप फिट करने के लिए ग्राम पंचायत से किसी प्रकार का प्रस्ताव नहीं है। ग्रामीणों की शिकायत पर हैण्डपंप से पंप को निकाला जाएगा।

हैंडपंप सरकारी, लेकिन जनता को पानी पीने की यहां इजाजत नहीं

वैसे तो अक्सर कहीं न कहीं ऐसा देखते होंगे। पर विकाश छेत्र सिधौली में हालात कुछ ज्यादा ही बिगड़ गए हैं। यहां सरकारी हैंडपंपों पर कुछ खास लोगों ने कब्जा कर रखा है। कब्जा करने वालों में सरकारी कर्मचारी, भी शामिल हैं। जानते हैं सरकारी हैंडपंपों पर कब्जा होने के कारण आम जनता को यहां पानी पीने तक की इजाजत नहीं है। लोगों ने सरकारी हैंडपंपों में सबमर्सिबल डलवा लिया और उसका इस्तेमाल केवल कब्जा करने वाले ही कर रहे हैं।

बताया जाता है कि एक हैंडपंप पर बीस हजार रुपए से अधिक की धनराशि खर्च होती है। लोगों को शुद्ध पानी के लिए गांव में हैंडपंपों को लगाया गया है। बड़ी संख्या में हैंडपंपों पर निजी लोगों ने कब्जा कर रखा है। कई लोगों ने नलों को घर के अंदर कर लिया है। कुछ लोगों ने नल उखाड़ कर बोरिंग में समर डलवा ली है। प्राथमिक विद्यालय लहु रिवान के नल पर कब्जा देखकर गांव देहात के लोगों ने भी बड़ी संख्या में नलों पर कब्जा कर रखा है। सिधौली ब्लाक छेत्र में लगे अधकांश सरकारी नल में सबमर्सिबल लगवा दिया गया है।।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments