अवध विश्वविद्यालय शोध कार्यों और साहित्यिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए विश्वविद्यालय खुद करेगा प्रकाशन

अवध विश्वविद्यालय शोध कार्यों और साहित्यिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए विश्वविद्यालय खुद करेगा प्रकाशन

अयोध्या- अवध विश्वविद्यालय शोध कार्यों और साहित्यिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए विश्वविद्यालय खुद करेगा प्रकाशन"..


शोध कार्यों से देश ग्लोबल स्तर पर जाना जाए इसके लिए सरकार भी प्रयासरत है.. डॉ राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित जी भी प्रयासरत हैं और ऐसे सिस्टम को बढ़ावा देने के लिए फंडिंग एजेंसी आईसीएसएसआर के डायरेक्टर डॉ उपेन्द्र चौधरी भी..


आज डॉ राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय में शोध कार्यों के संदर्भ में एक कार्यशाला का आयोजन हुआ.. जिसमें आईसीएसएसआर के डायरेक्टर डॉ उपेन्द्र चौधरी ने कहा कि आप प्रस्ताव दीजिए धन की कमी नहीं होने देंगे...


कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित जी ने एक बड़ी घोषणा करते हुए कहा मीडिया लैब, स्टूडियो तो बन ही रहा है...अब विश्वविद्यालय स्वयं का प्रकाशन भी करेगा...


कार्य परिषद सदस्य ओमप्रकाश सिंह ने कुलपति के इस निर्णय पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि इससे विश्वविद्यालय कार्य क्षेत्र से जुड़े हुए जिले के साहित्यकारों और विश्वविद्यालय के शोध छात्रों के शोध को प्रकाशित करने और उसकी ग्लोबल वैल्यू में मदद होगी.

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments