विधुत उपभोक्ताओं का फुटा आक्रोश,एसडीओ आॅफिस पर जमकर बवाल काटा

विधुत उपभोक्ताओं का फुटा आक्रोश,एसडीओ आॅफिस पर जमकर बवाल काटा

बेगूसराय:

विधुत विभाग द्वारा लापरवाही से त्रस्त आम लोगों का गुस्सा बुधवार  को सातवें आसमान पर था।

लोकसभा चुनाव के बाद से हीं बिजली कटौती ,जर्जर तार पोल समेत अन्य समस्याओ को लेकर बुधवार को विधुत उपभोक्ताओ ने बछवाड़ा विधुत सब स्टेशन पहुंंचकर जमकर हंगामा किया. विधुत उपभोक्ता नवीन कुमार ईश्वर, सोनू कुमार,संदीप चौधरी,गोलू कुमार,आंसू कुमार,रवि कुमार,अजय कुमार,सांंकेत कुमार,अमरजीत कुमार, राजीव कुमार,मो. जफर,मो. इकराम समेत अन्य लोगो ने बताया कि विधुत विभाग कि लापरवाही के कारण बछवाड़ा के विभिन्न फीडर में 24 घंटे में मात्र छः घंटे ही बिजली आपुर्ती की जाती है.

जिस कारण लोगो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है. उन्होने बताया कि प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न पंचायत में सैकड़ो की संख्या में छात्र-छात्रा है जो मैट्रीक परिक्षा की तैयारी कर रहा है लेकीन बिजली नही रहने के कारण वो पढ़ नही पाते है पढ़ने के लिए बिजली के बदले लालटेन या डीबरी दिया जाता है तो छात्रो का कहना होता है कि इसमें दिखाई नही देता है चुकी बिजली की आदत लगा हुआ है. उन्होने बताया कि दिन से लेकर रात तक बिजली बंद रहने के दौरान जब विधुत पदाधिकारी से मोबाइल पर सम्पर्क किया जाता है

तो विधुत पदाधिकारी मोबाइल रिसीव करना भी मुनासिब नही समझते है. उन्होने विधुत विभाग के पदाधिकारियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि टांसफार्मर में लगने वाले अर्थ के लिए जीआर पत्ति से लेकर लगने वाले मजदुरी भी उपभोक्ताओं से वसूला जाता है. जबकी विधुत विभाग में प्रत्येक वर्ष मेन्टेनेंस के लिए अलग से राशि दी जाती है साथ ही उपभोक्ताओ से सर्विस चार्ज अलग से लिया जाता है. उन्होने कहा कि कोल्डस्टोरेज के लिए विधुत विभाग अलग से सुविधा प्रदान करता है.

जब किसी कोल्डस्टोरेज में विधुत बांंधित होता है तो एक से दो घंटे में ही चालू किया जाता है लेकीन वही जब उपभोक्ता का बिजली बांधित होता है तो 24 से 36 घंटे में भी बिजली का संचालन नही किया जाता है. सूचना मिलते ही बछवाड़ा थाना के एसआइ शशि भुषण सिंह पुलिस बल के साथ विधुत पावर सब स्टेशन पहुंंचकर उपभोक्ताओ को समझाने का प्रयास किया लेकीन उपभोक्ताओ ने एक नही सुनी

 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments