कांग्रेस ज्ञान संवाद कार्यक्रम में सैम पित्रोदा ने कांग्रेस की सत्ता वापसी की रणनीतियों का किया खुलासा 

कांग्रेस ज्ञान संवाद कार्यक्रम में सैम पित्रोदा ने कांग्रेस की सत्ता वापसी की रणनीतियों का किया खुलासा 

कांग्रेस ज्ञान संवाद कार्यक्रम में सैम पित्रोदा ने कांग्रेस की सत्ता वापसी की रणनीतियों का किया खुलासा 

 

भारत में सूचना क्रांति के जनक राजीव गांधी को सूचना क्रांति के क्षेत्र में दिशा में अहम भूमिका निभाने वाले सैम पित्रोदा ने प्रो. आदित्य नारायण मिश्रा जी द्वारा आयोजित कार्यक्रम "कांग्रेस ज्ञान संवाद" में विचार प्रकट किए |

1984 में सैम पित्रोदा ने  दूरसंचार के क्षेत्र में अनुसंधान और विकास के लिए सी-डॉट यानी 'सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ़ टेलिमैटिक्स' की स्थापना की थी। इनकी क्षमता से प्रभावित होकर राजीव गांधी ने उन्हें घरेलू और विदेशी दूरसंचार नीति को दिशा देने का कार्य दिया था ।

विज्ञान एवं अभियांत्रिकी क्षेत्र में अतुलनीय योगदान देने के कारण भारत सरकार ने 2009 में इनको पद्म विभूषण सम्मान से सम्मानित कर चुकी  है | इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा ने राजेंद्र भवन में आयोजित कांग्रेस ज्ञान संवाद कार्यक्रम में एक वेब पोर्टल 'कांग्रेस ज्ञान संवाद' (congressgyansamvad.com) लॉन्च किया गया।

इस संवादात्मक सत्र में बीजेपी द्वारा दुष्प्रचार कांग्रेस द्वारा 70 साल में कुछ नहीं हुआ पर टिप्पणी करते हुए कहा है कि  शिक्षा, स्वास्थ्य और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में पिछले 70 वर्षों में जो कुछ भी हासिल किया है,उसका प्रभाव फिलहाल देश में दिख रहा है|

दिल्ली प्रदेश युवा कांग्रेस के सह-संयोजक डॉ अनिल कुमार ने बताया है कि सैम पित्रोदा ने कार्यक्रम में कांग्रेस की सत्ता वापसी की  नीतियों का खुलासा किया है | कांग्रेस की योजनाओं का अंतिम पायदान पर रहने वाले लोगों तक फायदा जनसामान्य तक पहुंचाएंगे | 

देश के विश्वविद्यालय में जारी तदर्थ एवं गेस्ट अध्यापकों की समस्याओं पर उन्होंने  दृढ़ता से विश्वास दिलाया कि कांग्रेस घोषणा पत्र में शामिल इस एजेंडे को पूरा करेगी। विश्वविद्यालयों को पाठ्यक्रम को तैयार करने में पूर्ण स्वायत्तता प्रदान करेगी।

सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता विस्तार, गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए शिक्षा पर सार्वजनिक व्यय को सकल घरेलू उत्पाद के 6 प्रतिशत तक खर्च करने का दावा किया है। शिक्षा और स्वास्थ्य के दो क्षेत्रों को निजी क्षेत्र की दया पर नहीं छोड़ा जा सकता है और राज्य को अपना कर्तव्य निभाना चाहिए। उन्होंने सामाजिक परिवर्तन के प्रभाव एजेंट के रूप में शिक्षकों की भूमिका का सम्मान किया। देश की समस्याओं को घोषणा पत्र में जगह दी है, उसका देश के छात्रों एवं शिक्षकों को जनसामान्य तक पहुंचाने की अपील की है |

पित्रोदा ने कहा कि जब कांग्रेस पार्टी ने हरित क्रांति, श्वेत क्रांति एवं मनरेगा जैसे कार्यक्रमों को लागू करने की आवाज उठाई थी तब अन्य पार्टियों ने उनका मजाक उड़ाते हुए कहा था यह  हिंदुस्तान में लागू करना संभव ही नहीं है |

कांग्रेस पार्टी की राजनीतिक इच्छाशक्ति ने असंभव कार्य  को संभव करके दिखाया | फिलहाल राहुल गांधी ने घोषणा पत्र में न्याय योजना की लागू करने का दृढ़ निश्चय किया है | इस योजना के लागू होने से देश के अत्यंत 20 प्रतिशत  गरीब व्यक्तियों को सालाना ₹72000 का  देने का निश्चय किया है |

देश में न्याय योजना लागू होने से रुकी हुई अर्थव्यवस्था फिर से रफ्तार पकड़ेगी | इन 5 वर्षों में मोदी सरकार ने उद्योगपतियों से दोस्ती निभाने में बिताया है | जिसके कारण देश के सार्वजनिक कंपनियां कंगाल होती चली गई | उदाहरण के लिए जेट एयरवेज़ बन्द होना , एयर इंडिया का घाटे में चलना , BSNL के 50 हजार से अधिक कर्मचारियों के रोजगार खतरे में पड़ना,

HAL के पास कर्मचारियों को देने के लिए सैलरी ना होना, डाक विभाग का  15 हजार करोड़  घाटे में चलना ,वीडियोकॉन का  दिवालिया होना, टाटा डेकोमो ,एयरसेल,जे.पी.ग्रुप का समाप्त होना इत्यादि समस्याओं का देश फिलहाल सामना कर रहा है | कांग्रेस पार्टी का घोषणा पत्र जब देश के कोने कोने तक लोगों तक पहुंचेगा तब देश की जनता जरूर समर्थन करेगी |

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments