गौवंश आश्रय स्थल पर ही हरा चारा उगाने की व्यवस्था करायें

गौवंश आश्रय स्थल पर ही हरा चारा उगाने की व्यवस्था करायें

हरदोई ।

सण्डीला सम्पूर्ण समाधान दिवस के उपरान्त जिलाधिकारी पुलकित खरे ने कछौना ब्लाक की ग्राम पंचायत उत्तर घईयां के मजरा भारत खेड़ा में संचालित अस्थाई गौवंश आश्रय स्थल का निरीक्षण किया।

निरीक्षण के दौरान उन्होने यहां समर सेबुल, चारा, सोलर लाईट आदि की जानकारी ली तथा ग्राम प्रधान एवं सिके्रटरी को निर्देश दिये कि गौवंशों को हरा चारा देने के लिए गौवंश आश्रय स्थल पर ही हरा चारा उगाने की व्यवस्था करायें तथा गौवंशों के गोबर से खाद बनाने की प्रक्रिया भी अमल में लाये।

उन्होने कहा इसके साथ ही लोगों को गौवंश आश्रय स्थल से गौवंश ले जाकर उन्हें पालने के प्रति जागरूक करे तथा बताये कि कोई भी व्यक्ति पालने के लिए लिखा-पढ़ी में चार गौवंश ले सकता है जिसके लिए उसे 900/-रू0 प्रति गौवंश मिलेगा। उन्होने पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिये कि नियमित गौवंशों के स्वास्थ्य का परीक्षण करें तथा बीमार गौवंशों की प्रतिदिन जांच कर दवा आदि दें। इस अवसर पर उप जिलाधिकारी सण्डीला मनोज श्रीवास्तव, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी जेएन पाण्डेय, ग्राम प्रधान, सिके्रटरी आदि मौजूद रहें। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी के निर्देश पर जनपद स्तरीय अधिकारियों द्वारा तहसील सण्डीला के 19 अस्थाई गौवंश आश्रय स्थलों का निरीक्षण किया गया।

Comments