घरों के बाहर बने रैंपो पर चला नप का पीला पंजा

घरों के बाहर बने रैंपो पर चला नप का पीला पंजा

बद्दी ( पंकज गोल्डी) !  

औद्योगिक नगर बद्दी की दो बड़ी कॉलोनियों को जोडऩे वाले बहुचर्चित रोड़ अमरावती-फेस तीन पर लंबे समय से चला आ रहा अडंगा आज हट गया। यह रोड़ पिछले एक साल से वाहन चलाना तो दूर पैदल चलने लायक भी नहीं बचा था।

नगर परिषद दो साल से लोगों से रैंप तोडऩे का आग्रह कर रही थी, लेकिन लोगों पर कोई असर नहीं हो रहा था।

जिसके बाद नप ने एक्शन मोड में आते हुए आज रैंपों को तोडऩ का काम शुरू कर दिया।  किसी भी प्रकार की गडबड़ न हो इसलिए वहां पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया था।

प्रशासन ने दो मशीनें लगाकर एक सिरे से रैंप तोडऩे का काम शुरु किया तो पूरे बद्दी के लोगों ने इसका स्वागत करते हुए

नप का देर से उठाया गया उचित कदम करार दिया। एक एक करके रैंप तोडे गए तो कब्जा करने वालों ने थोडा रोष जरुर जताया लेकिन प्रशासन के आगे उनकी एक न चली।

लोगों की सुविधा के लिए तोड़े गए हैं रैंप : नरेंद्र दीपा
नगर परिषद बद्दी के अध्यक्ष नरेंद्र दीपा व कार्यकारी अधिकारी रणवीर वर्मा ने कहा कि हमने लोगों को नौ माह का समय दिया था। जब उन्होंने स्वयं अवैध रैंप नहीं हटाए तो हमें यह कार्यवाही करनी पड़ी। यह कदम सड़कों को सही तरीके से बनाने और पानी की निकासी की उचित व्यवस्था की दृष्टिगत उठाया गया है

ताकि सड़कों की लाईफ लंबी हो। वहीं दूसरी ओर बद्दी सुधार सभा के अध्यक्ष संजीव कौशल, फेस तीन सोसाईटी के प्रधान सुरेश शर्मा, हरिओम योगा सोसाईटी के प्रधान डा श्रीकांत शर्मा, महामंत्री कुलवीर आर्य, बद्दी विकास मंच के अध्यक्ष बेअंत सिंह ठाकुर ने नगर परिषद व प्रशासन के रैंप तोडऩे के कदम को सराहनीय करार दिया है। उन्होंने कहा कि यह अभियान भविष्य में जारी रहना चाहिए।

जनमंच में उठा था मुददा
इस मार्ग की दुर्दशा का मुद्दा हाऊसिंग बोर्ड सोसाईटी फेस तीन, हिमुडा कमेटी, अमरावती सोसाईटी व हरिओम योगा सोसाईटी ने अगस्त माह में डा. राजीव बिंदल विस अध्यक्ष की अध्यक्षता में हुए जनमंच में उठा था।

उस समय नप ने जबाव में कहा कि हम तीन माह में सबको नोटिस देकर इस कार्य को पूर्ण करेंगे। अब तीन माह पूर्ण हो चुके हैं और अगला जनमंच दून में शीघ्र होने वाला है। उससे पहले प्रशासन के उपर अपना दावा पूर्ण करने का दबाब था जिसकी शुरुआत आज हो गई।

 

 

Comments