राजधानी  में थाने के सामने खुलेआम चल रहा था जालसाज़ों  का फर्जीवाड़ा

 राजधानी  में थाने के सामने खुलेआम चल रहा था जालसाज़ों  का फर्जीवाड़ा

विशेष संवाददाता- अजय कुमार यादव 

 
 राजधानी में विदेश भेजने के नाम पर हो रहा था फर्जीवाड़ा
 विदेश भेजने का झांसा देकर ठगे लाखों रुपए
 2 दिन बीत  जाने के बाद भी नहीं हुआ मामला दर्ज

 

 राजधानी लखनऊ में खुलेआम कृष्णा नगर थाने के सामने विदेश भेजने के नाम पर जालसाज फर्जी तरीके से लोगों का पासपोर्ट ,वीजा और नौकरी लगवाने के नाम पर लगा रहे थे लाखों का चूना 

 राजधानी लखनऊ के ठाकुरगंज निवासी समनान गार्डन ख्वाजा लॉन  के रहने वाले जीशान पुत्र युसूफ ,मोहम्मद सादिक, अतीक सिद्दीकी, वसीम अहमद, शाह फैसल जैसे काफी लोगों को विदेश भेजने के नाम पर जालसाजी कर  लगाया लाखों का चूना वही फोन पर संपर्क न होने तथा ऑफिस बंद होने पर लोगों को ठगी का एहसास हुआ जिस पर पीड़ितों ने कृष्णा नगर थाने में  शुक्रवार को  पहुंचकर जालसाजी के खिलाफ लिखित प्रार्थना पत्र पुलिस को दी पीड़ितों से तहरीर लेकर पुलिस जांच कर रही है

 ग्लोबल मरीन मैनेजमेंट सर्विस के एम• डी•  समीम अहमद निवासी पटेल चौक मस्जिद बिल्डिंग नई दिल्ली ,लखनऊ  कृष्णा प्लाजा तृतीय तल निकट कृष्णा नगर मेट्रो स्टेशन के  पास  ऑफिस था स्थानीय ऑफिस में शमीम अहमद तथा उनके कर्मचारी मकसूद आलम, सलीम, अंकिता, आरती, वसीम अहमद से मुलाकात हुई थी पीड़ितों ने आरोप लगाया कि शमीम अहमद और सभी कर्मचारियों ने लोगों को झांसे में लेकर यह  कहते थे कि सऊदी अरब कुवैत व अन्य देशों का वीजा मेरे पास उपलब्ध है जिसमें से रानी जूस कंपनी सऊदी अरब का वीजा अभी तुरंत उपलब्ध करा दूंगा. जालसाजों  की बातों में विश्वास करके अपना -अपना पासपोर्ट और  सभी लोगों ने मिलकर लाखों रुपए चेक  तथा  खाते के माध्यम से जमा  करवा लिया जाता था.


 ग्लोबल मरीन मैनेजमेंट सर्विस के एम.डी. शमीम अहमद के कार्यालय में नगद कैश भी  जमा किया जाता था सभी के पासपोर्ट मंसूद  आलम ने जमा करवाए थे और   सॉरी  फॉर्मेलिटी पूरी कराकर लोगों को आश्वासन दे  दिया जाता था कि जल्दी  ही  टिकट करा कर  आप लोगो रवाना कर देंगे  दिए समय पर फोन से संपर्क न होने पर तथा ऑफिस बंद होने पर पीड़ितों को ठगी का एहसास होने के बाद  पीड़ितों ने लिखित प्रार्थना पत्र लेकर पुलिस के पास गए  तहरीर  लेकर  पुलिस  दो दिन से जांच कर रही है फिलहाल पुलिस ने बताया कि जाँच कर मामले को जल्द ही  दर्ज़ किया जायेगा 

 

 

Comments