सदर अस्पताल से मरीज को निजी क्लिनिक लेजाने से रोकने पर बिचौलियों ने किया मारपीट

 सदर अस्पताल से मरीज को निजी क्लिनिक लेजाने से रोकने पर बिचौलियों ने किया मारपीट

जमुई:

सदर अस्पताल आये दिन दलालों का अड्डा बनता जा रहा है।प्रशाशन द्वारा लगाए गए सीसीटीवी कैमरे के बावजूद सक्रिय महिला दलाल सदर अस्पताल आये मरीजों को महज कुछ पैसों की खातिर निजी क्लिनिक में भर्ती करा देते हैं।

इतना ही नहीं प्रत्येक दिन सदर अस्पताल में मरीजों के लिए आशा कार्यकर्ता और दलाल के बीच झड़प होती रहती है।अस्पताल परिसर में लगे कैमरे से न बिचौलियों को भय है और न ही प्रशाशन द्वारा कोई कार्रवाई की जाती है। सोमवार की शाम एक ऐसा ही मामला सदर अस्पताल में सामने आया।जहां मरीज को निजी क्लिनिक लेकर जाने से रोकने पर महिला दलाल द्वारा दो बाहरी युवक को बुलाकर मारपीट कराया गया।बताते चलें कि मुंगेर जिले के खंडगपुर से प्रसव कराने आई एक महिला को बहला-फुसलाकर प्राइवेट क्लिनीक ले जाने का विरोध करने पर एक महिला दलाल ने युवक की पिटाई कर दी।

उक्त महिला दलाल नगर थाना के दौलतपुर गांव निवासी प्रियंका कुमारी बताई जाती है। साथ ही उक्त दलाल ने फोन कर बाहर से दो युवक को बुलाकर उक्त युवक सुमित कुमार की फिर से पिटाई करवा दी।जब पिटाई कर विरोध करने एक निजी एम्बुलेंस चालक बच्चन वहां पहुंचा तो उक्त दोनों युवक ने एम्बुलेंस चालक की भी पिटाई कर दी। जब आस-पास के लोग जमा होने लगे

तो उक्त युवक मौके से फरार हो गया।बताया जाता है कि खड़गपुर से एक गर्भवती महिला प्रसव कराने के लिए जैसे ही सदर अस्पताल पहुंची थी कि महिला दलाल प्रियंका कुमारी उक्त महिला को बहलाने-फुसलाने लगी कि उसे प्राइवेट क्लिनीक में सदर अस्पताल से कम खर्च पर सब कुछ करा दिया जाएगा। तब पास खड़ी मुन्नी खातून ने जब ऐसी बात सुनी तो उक्त महिला से कहा कि इनलोगों के चक्कर में नहीं आइए यह सभी लोग अस्पताल की दलाल है इस बात का समर्थन पास खड़े युवक सुमित ने किया,

इस बात से नाराज प्रियंका कुमारी ने सुमित को मारने लगी।महिला होने की वजह से सुमित ने कुछ नहीं बोला।लेकिन महिला दलाल ने फोन कर दो बाहर के युवक को बुलाया फिर से सुमित की पिटाई कराने लगी।

 
  • कहते हैं उपाधीक्षक

इस संबंध में सदर अस्पताल उपाधीक्षक डा. सैयद नौशाद अहमद ने बताया कि मामले की जानकारी हुई है। इस संबंध में सीएस को जानकारी देकर वैसे लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Comments