जौनपुर ।मरकज़ी सीरत कमेटी के प्रतिनिधिमंडल ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

जौनपुर ।मरकज़ी सीरत कमेटी के प्रतिनिधिमंडल ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

फिरोज 

मङियाहू जौनपुर 

 

जौनपुर।

 ईद मिलादुन्नबी स.अ.व की तैयारियों के सिलसिले में मरकज़ी सीरत कमेटी का एक प्रतिनिधिमंडल मरकज़ी सीरत कमेटी के अध्यक्ष अरशद क़ुरैशी के नृतत्व में जिलाधिकारी महोदय से मिला। इस्लाम धर्म के पैग़म्बर मोहम्मद स.अ.व के जन्मदिवस ईद मिलादुन्नबी की तैयारियों को लेकर जिलाधिकारी को 23 सूत्री मांगों का पत्र सौंपा गया

जिलाधिकारी को दिया गए पत्र में विभिन्न मांगे की गई। मरकज़ी सीरत कमेटी के अध्यक्ष अरशद क़ुरैशी ने बताया कि तमाम मुसलमान पैग़म्बर मोहम्मद साहब की यौमे पैदाइश को बहुत ही ख़ुशी के साथ मनाते हैं, यह मुसलमानों का सबसे बड़ा पर्व है, इस दिन पैग़म्बर साहब की यौमे पैदाइश की ख़ुशी में जनपद में जुलूस-ए मदहे सहाबा रज़ि0 निकाला जाता है।

जिलाधिकारी श्री दिनेश कुमार सिंह को सौंपे गए पत्र में बताया गया है कि 10 नवम्बर 2019 को जौनपुर शहर का इतिहासिक व तारीख़ी जुलूस व जलसा जश्ने ईद मिलादुन्नबी स अ व व जुलूसे मदहे सहाबा बड़े ही शान व शौकत के साथ मनाया जाएगा जिसमें शहर की 35 नातखोवाँ अंजुमन 25 फने सिपाह गरी के अखाड़े जो कि 12 बजे दिन में शाही ईदगाह पर एकत्रित होना शुरु हो जायेंगे जो शाम 5 बजे जुलूस की शक्ल में शाही ईदगाह से उठकर अपने क़दीमी रास्तों से होते हुए कोतवाली चौराहा स्थित नियंत्रण कक्ष से होते हुए शाही अटाला मस्जिद पहुंच कर जलसे की शक्ल में तब्दील हो जायेंगी। शहर के मुख्य मार्गों पर अंजुमन वा अखाड़ों के स्वागत के लिए समाजसेवी संगठनों द्वारा स्टाल व स्टेज लगाए जाएंगे

जहां पर रुककर अंजुमन कलाम पेश करेंगी तथा अखाड़े अपने फन का प्रदर्शन करेंगे। शहर के मुख्य व लिंक मार्गों पर विभिन्न सजावट कमेटियों द्वारा पूरे शहर को दुल्हन की तरह सजाया जाएगा। उक्त जुलूस व जलसे में सुबह से लेकर दूसरे दिन सुबह तक 50000 लोगों का आवागमन बना रहता है जिसमें महिलाएं बुजुर्ग व बच्चे शामिल रहते हैं जुलूस व जलसे की शोभा बढ़ाने हेतु भिन्न-भिन्न स्थानों पर अस्थाई दुकानें भी सजाई जाती है

उक्त जुलूस व जलसे को संपन्न कराने हेतु आपसे निम्न मांगे की जाती है। शाही ईदगाह से शाही अटाला मस्जिद तक गड्ढा मुक्त सड़कें। ईद मिलादुन्नबी के अवसर पर जुलूस व जलसे के मार्गों पर आवारा पशु व सूवर के प्रवेश पर रोक हेतु सम्बंधित विभाग को दिशा निर्देश।

10 नवंबर 2019 को शहर के मुख्य मार्गों पर साफ़-सफ़ाई व चूना छिड़काव जुलूस के समय पुलिस बल की तैनाती जुलूस के रास्तों पर शाम 4:00 बजे वाहन व ई रिक्शा पर पूर्णतया प्रवेश पर रोक आपातकालीन स्थिति से निपटने हेतु एंबुलेंस व मेडिकल कैम्प आपातकालीन स्थिति से निपटने हेतु अग्निशमन यूनिट वाहन सहित कई तैनाती इसके अलावा जुलूस आदि की व्यवस्था बनाए रखने में भी दिक्कतें पेश आ सकती हैं। जिसके लिये सुरक्षा की मांग की गई।

ज्ञापन देने वालों में पूर्व विधायक हाजी अफ़ज़ाल अहमद,मौलाना कयामुद्दीन,शकील मंसूरी,शाहनवाज़ खान,अजवद क़ासमी,अंजुम सिद्दीकी,असलम शेर खान,रुख़सार अहमद,मोहम्मद उमर,शमीम अहमद,सलमान मालिक,इशबा सिद्दीकी,काशिफ़ क़ुरैशी,हाजी नेहाल अंसारी,मुमताज़,आदि उपस्थित रहे।

Comments