मोदी एवं योगी सरकार में हो रहा अवैध खनन। तथा महमूदाबाद तहसील का समूचा प्रशासन मौन।

मोदी एवं योगी सरकार में हो रहा अवैध खनन। तथा महमूदाबाद तहसील का समूचा प्रशासन मौन।

महमूदाबाद सीतापुर।

 

मोदी एवं योगी सरकार में हो रहा अवैध खनन। तथा महमूदाबाद तहसील का समूचा प्रशासन मौन।

 

मनोज कुमार की रिपोर्ट महमूदाबाद


महमूदाबाद क्षेत्र के ग्राम पंचायत अगैया के ग्राम इमिलिया मानपुर तहसील महमूदाबाद जिला सीतापुर की ग्राम समाज की भूमि में अवैध तरीके से खनन माफिया रामबचन पुत्र बैजू निवासी ग्राम गोड़ैचा तहसील महमूदाबाद जिला सीतापुर के द्वारा जेसीबी मशीन से अवैध तरीके से खनन किया जा रहा है। जबकि भूमि की खुदाई करने के लिए जिला सीतापुर के उच्चाधिकारियों ने ग्राम मुर्तजा नगर परगना वा तहसील महमूदाबाद जिला सीतापुर की भूमि खनन करने हेतु जो गाटा संख्या दी है। जिसका विवरण इस प्रकार है।
गाटा संख्या– 50/2, 130/1, 130/4, 166/2, 167, 168, 169, 171/2, 193, 194, 217, 218, उपरोक्त गाटा संख्याओं का आदेश कार्यालय जिलाधिकारी सीतापुर (खनिज अनुभाग) के द्वारा संख्या 613 वर्ष 2018/19 दिनांक 25/10/2018 को ग्राम मुर्तजानगर– परगना– वा– तहसील– महमूदाबाद जिला सीतापुर का हुआ था।
मगर खनन ठेकेदार ने इमिलिया मानपुर के क्षेत्र में अवैध तरीके से खनन कर रहा है। जोकि अवैध है। अवैध खनन की सूचना मीडिया को दी।
मीडिया टीम ने मौके वारदात पर पहुंच कर विजुअल बनाया तथा पूर्व प्रधान सहित वहां पर मौजूद ग्रामीणों से जानकारी ली तो सभी लोगों ने जानकारी दी कि ठेकेदार को जिस क्षेत्र का आदेश प्राप्त है। उसी क्षेत्र में अपना कार्य करें। दूसरे क्षेत्र की भूमि पर अवैध खनन ना करें। मीडिया टीम ने उपजिलाधिकारी महोदय महमूदाबाद को मौके की जानकारी दी। महोदय को जानकारी होते ही क्षेत्रीय लेखपाल को मौके पर भेजा। लेखपाल ने मौका मुआयना करके ठेकेदार को अवैध खनन करने से रोका तथा यह हिदायत भी दी कि कल इस भूमि की पैमाइश होने के बाद ही उक्त भूमि पर खनन करना अगर आप नहीं मानोगे तो मैं अपनी कलम को किसी भी स्थिति में नहीं फसने दूंगा। बाकी तो आप जानते ही हैं। क्या होगा। 
इतना कह कर क्षेत्रीय लेखपाल मौके से वापस चल दिए तब मीडिया टीम ने उपरोक्त प्रकरण के बारे में लेखपाल से पूंछा तो लेखपाल ने अपना पल्ला झाड़ लिया और कहा कि इस प्रकरण की जानकारी कानूनगो साहब ही दे सकते हैं। मैं नहीं। मगर दूसरे दिन लेखपाल मौके पर पैमाइश करने नहीं पहुंचे। इससे ठेकेदार के हौसले काफी बढ़े हुए हैं। 
जबकि ठेकेदार के द्वारा लगभग 8/9 फिट का गहरा गड्ढा जेसीबी मशीन से किया जाता है। जबकि आदेश लगभग 2 घन मीटर का दिया जाता है। फिर भी मानक से ज्यादा क्यों खनन किया जाता है। यह तो जाँच का विषय है। अगर ऐसा होता रहा तो आने वाले समय में क्या होगा यह कह पाना बहुत मुश्किल होगा। तथा उस क्षेत्र के निवासी ही बताने के लिये मजबूर होंगे
खबर लिखे जाने तक उपरोक्त प्रकरण का समाधान नहीं हुआ था।
कार्यालय जिलाधिकारी सीतापुर के द्वारा दिये गये आदेश की छायाप्रति।
रिपोर्ट– मनोज कुमार महमूदाबाद सीतापुर।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments