आदिवासी समाज के लोगों ने विकास नहीं तो वोट नहीं का लगाया नारा

आदिवासी समाज के लोगों ने विकास नहीं तो वोट नहीं का लगाया नारा

मिर्ज़ापुर- 

राजगढ़ ब्लाक के अंतर्गत ग्रामसभा नुनौटी में पतार, कोदवारी, ताला गाँव के आदिवासी समाज के लोगों ने आदिवासी कार्यालय में बैठक संपन्न हुआ बैठक में चुनाव आयोग से अपनी बात रखते हुए कहा कि इन तीनों पुरवा के अंदर कुल 1500 वोटर है

जिसमे आयोग से एक पोलिंग बूथ का मांग करते हुए कहा कि पोलिंग बूथ दस किलो मीटर दूर है, यह के लोगो को दो रेलवे क्रासिंग को क्रास करके जंगली रास्ता से इस प्रचंड गर्मी में जाना पड़ता हैं जिससे यहाँ पर पड़ने वाले वोटो का प्रतिशत कम हो जाता हैं।वहीं पानी पीने के लिए भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता हैं तथा मुक्का बाँध का प्रस्ताव कई बार सांसद, विधायक को दिया गया

लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई वहीं बच्चो को आठ पास करने के बाद कोई भी आगे की शिक्षा के लिए कॉलेज नही हैं। जिसको आगे की शिक्षा प्राप्त करना होता हैं उसे 15 किलो मीटर दूर कुनबा जाना पड़ता है, जिसे जंगली रास्ता होने के वजह से बच्चो कें साथ कभी बड़ा हादसा होने से टाला नहीं जा सकता

वहीं अगर कोई बीमार पड़ जाता है तो उसे 19 किलो मीटर दूर राजगढ़ स्थित स्वास्थ्य केंद्र जाना पड़ता है जिसे लेकर हम ग्रामीण इन सभी सुविधाओं की मांग की है कि विकास नहीं तो वोट नहीं।

शिव कुमार गोंड (राहुल) सीताराम गोंड, बाजीलाल गोंड जवाहीर गोंड सन्तोश चमार, प्रमोद कुमार पाल पंचु बिन्द अनिल कुमार पाल एवं अन्य आदिवासी समाज कें लोग उपस्तिथि रहे।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments