पीजीआई पुलिस दिब्यांग दम्पति को फटकार लगाकर करती वापस

पीजीआई पुलिस दिब्यांग दम्पति को फटकार लगाकर करती वापस

आरोपी बेटे को ढूढते थाना जेल आंख के दिब्यांग दम्पति ।

 

 

चोरी व मार पीट के मामले मे चार माह पहले 100 डायल पुलिस ले गयी थी थाने ।।

 

चार माह आंख के दिब्यांग मां बाप थाने व जेल का लगा रहे चक्कर ।

 

पुलिस फटकार लगाकर करती है वापस ।

 

 पीजीआई थाना क्षेत्र तेलीबाग चौकी अन्तर्गत वृन्दावन योजना सेक्टर 5 रमजान नगर मे चार माह पहले सफाई कर्मी के यहाँ चोरी व मार पीट के मामले मे सूचना पर पहुची 100 डायल की पुलिस ने एक पक्ष को थाने ले गयी थी ,

थाने गये आरोपी युवक के माता पिता आंख के दिब्यांग और गरीब है जो किसी तरह जीवन यापन करते है कई दिवस बीत जाने के बाद भी जब  युवक घर नही आया तो पता की तो पता चला कि मार पीट के मामलज मे पुलिस थाने ले गयी थी और जेल भेज दिया होगा ।

तब से आंख के दिब्यांग थाने और जेल का चक्कर लगा रहे है लेकिन न तो थाने व चौकी का दिल नही पसीजा की इन दुखिया की समस्या सुनकर समाधान करा दे । मामला मीडिया मे आया तो मीडिया कर्मियों ने पहले दूसरे पक्ष (बादी) का पता लगाने की बात बताई और पीडित परिवार वादी का पता लगा लिया लेकिन अभी वादी नही मिला है ।

 

 यह है पूरा मामला

 

 जानकारी के अनुसार मो० सलमान अपनी पत्नी शकीरा और चार बच्चो के साथ वृन्दावन योजना सेक्टर 5 रमजान नगर मे रहते है जो बच्चों के साथ सब्जी का ब्यवसाय करते है जिनकी किन्ही कारण बस दोनो आंख के दिब्यांग हो चुके है इनका छोटा बेटा मो रफी जो इलेक्ट्रिक बेल्डिंग का काम करता है जो अक्सर काम के सिलसिले मे बाहर जाता रहता है

दिनांक 7 /8 /18 दिन मंगलवार दोपहर को  हरौनी निवासी सफाई कर्मी बिन्देश कुमार ने अपने साथियों के साथ मिलकर मो रफी को चोरी के इल्जाम मे पहले जमकर पीटा उसे बाद 100 की पुलिस को सूचना देकर थाने पहुचा दिया ।

वादी सफाई कर्मी कालोनी छोडकर गाँव चला गया है

जानकारी होने पर आंखें के दिब्यांग अपने आरोपी बेटे की पता लगाने के लिए   आईडी और फोटो लेकर थाने और जेल चार माह से का चक्कर लगा रहे है और पुलिस वही अपने पुराने चिर परिचित अंदाज मे मानवता को शर्मसार करने वाले स्वभाव मे थाने से डांट कर भगा दे रही है आंख के दिब्यांग मां का रो रोकर बुरा हाल हो गया है ।

पीजीआई कोतवली प्रभारी से इस विषय मे जब बात की तो उन्होंने बताया कि आरोपी के परिजन हम से अभी तक नही मिले है हम से मिलते है तो हम उनकी सहायता तुरन्त करायेगे ।

Loading...
Loading...

Comments