काफी जद्दोजहद के बाद पूर्व गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद गिरफ्तार 14 दिन की न्यायिक हिरासत में

काफी जद्दोजहद के बाद पूर्व गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद गिरफ्तार 14 दिन की न्यायिक हिरासत में

शाहजहांपुर/ एसएस लॉ कॉलेज की छात्रा द्वारा रेप एवं यौन शोषण के आरोपों में  घिरे चल रहे पूर्व गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद की काफी जद्दोजहद के बाद एसआईटी ने  आश्रम से गिरफ्तार कर लिया है मिली जानकारी के अनुसार उन्हें गिरफ्तार करने के बाद एसआईटी टीम कोतवाली ले गई जहां से पुलिसिया कार्रवाई निपटा कर मेडिकल हेतु मेडिकल कॉलेज ले जाया गया अन्य मुस्लिमों की तरह मेडिकल होने के बाद एस आईटी टीम ने सीजीएम न्यायालय में पेश किया जहां चिन्मयानंद को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है इस घटनाक्रम की तैयारी 1 दिन पूर्व ही शाम को हो गई थी जिसकी किसी को भनक तक नहीं लगी  सुबह होते ही  कई थानों की पुलिस आश्रम से लेकर न्यायालय मेडिकल कालेज एवं जिला कारागार पर मुस्तैद हो गई थी

आपको बता दें चिन्मयानंद पर उनके ही  कॉलेज  कॉलेज की एक छात्रा ने यौन शोषण एवं रेप का आरोप लगाते हुए सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल किया था जिसके बाद छात्रा गायब हो गई थी जिसे पुलिस ने राजस्थान से उसके दोस्तों के साथ ढूंढ निकाला था जिसका संज्ञान लेते हुए देश की शीर्ष अदालत ने छात्रा द्वारा दिल्ली पुलिस में की गई शिकायत के आधार पर एसआईटी टीम गठित कर जांच के आदेश दिए थे उसी एसआईटी टीम द्वारा लगातार जांच पड़ताल के बाद शायद 2 दिन पूर्व छात्रा द्वारा एसआईटी टीम पर ही गिरफ्तारी के संबंध में उठाए गए सवालों को ध्यान में रखते हुए गिरफ्तारी की है जिसे आज तक की सबसे बड़ी कार्रवाई के रूप में देखा जा रहा है

निगरानी के 24 घंटे में ही हट गई थी पुलिस

आपको बता दें 13 सितंबर को आश्रम पर निगरानी लगा दी गई थी चिन्मयानंद  से एसआईटी टीम ने कड़ाई से पूछताछ की थी पूछताछ के बाद कुछ आश्रम के कमरे भी सील कर दिए गए थे वहीं निगरानी हेतु आश्रम पर पुलिस का कड़ा पहरा लगा दिया गया था यही नहीं आश्रम में चल रहे सभी स्कूलों कालेजों में 1 दिन के लिए छुट्टी भी कर दी गई थी 24 घंटे भी नहीं गुजरे की सारी निगरानी हटा ली गई जब सवाल उठने लगे तो जानकारी दी गई कि चिन्मयानंद को जिले से बाहर ना जाने के निर्देश दिए गए हैं यहीं से स्वास्थ्य खराब होने की खबरें आने लगी कहानी  यहीं नहीं रुकी  मेडिकल कॉलेज में भर्ती भी होना पड़ा भर्ती के एक ही दिन बाद रेफर भी कर दिया गया रेफर के बाद भी चिन्मयानंद आश्रम पर ही इलाज करा रहे थे वह भी आयुर्वेदिक पद्धति से

चिन्मयानंद  की वकील पूजा सिंह ने गिरफ्तारी को बताया गलत

चिन्मयानंद की वकील पूजा सिंह ने गिरफ्तारी को गलत तरीके से किए जाने का विरोध किया है उन्होंने कहा कि मैं चिन्मयानंद की  वकील हूं मुझे चिन्मयानंद से गिरफ्तारी के समय मिलने नहीं दिया गया मैंने एसआईटी टीम से काफी कुछ गुजारिश की कि मैं वकील हूं मुझे मिलने दिया जाए उन्होंने कहा कि चिन्मयानंद को एक षड्यंत्र के तहत फसाया जा रहा है

क्या कहते हैं मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर अनुराग पाराशर

मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर अनुराग पाराशर द्वारा बताया गया कि अन्य मुलाजिमों की तरह एसआईटी टीम द्वारा मेडिकल कॉलेज में है चिन्मयानंद को लाया गया था जिनके साथ कोतवाली के एक स्पेक्टर थे जिनका स्वास्थ्य मेडिकल किया गया है जैसा अन्य मुलजिम  का कोर्ट में पेश करने से पहले किया जाता है

फिरौती मांगने के आरोपों में छात्रा के भाइयों समेत एक दोस्त गिरफ्तार छात्रा की भी बढ़ सकती हैं मुश्किलें



आपको बता दें कि छात्रा के आरोप लगाने वाले वीडियो के  वायरल होने व छात्रा के पिता द्वारा रिपोर्ट दर्ज किए जाने की मांग के बाद चिन्मयानंद ने भी षड्यंत्र के तहत फंसाए जाने का आरोप लगाते हुए  5 करोड़ रूपया रंगदारी मांगने का एक मुकदमा अज्ञात में दर्ज कराया था जिसमें एसआईटी टीम द्वारा छात्रा एवं छात्रा के दोस्त वा भाइयों से पूछताछ भी की गई जिसमें छात्रा के दोस्त संजय  त तेरे भाई दुर्गेश मौसेरे भाई सचिन  सेंगर को रंगदारी मांगने के आरोप में चिन्मयानंद की गिरफ्तारी के तुरंत बाद गिरफ्तार कर लिया है वहीं मेडिकल के बाद तीनों को जेल भेज दिया गया है रंगदारी में छात्रा का नाम भी आने से छात्रा की भी मुश्किलें बढ़ सकती हैं फिलहाल आरोप लगाने वाली छात्रा अपने पिता के साथ प्रयागराज में बताई जा रही है जिसके आज शाहजहांपुर लौटने की संभावना है

गिरफ्तारी  का घटनाक्रम

सुबह 8:30 पर एसआईटी टीम स्थानीय पुलिस के साथ  आश्रम पहुंची


8:50 पर चिन्मयानंद को आश्रम से गिरफ्तार कर कोतवाली चौक ले जाया गया जहां से मेडिकल कॉलेज में मेडिकल कराया गया

10:40  चिन्मयानंद को सीजेएम कोर्ट में पेश किया गया जहां से कुछ देर बाद 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया

11:00 बजे छात्रा के दोस्त संजय सिंह तेरे भाई दुर्गेश मौसेरे भाई सचिन   सेंगर को गिरफ्तार कर मेडिकल के बाद जेल भेज दिया गया

Comments