एक्सप्रेस-वे के नीचे खेत में बिलखती मिली नवजात बच्ची

एक्सप्रेस-वे के नीचे खेत में बिलखती मिली नवजात बच्ची
  • पीआरवी ने सीएचसी में कराया भर्ती 

उन्नाव। कोतवाली हसनगंज क्षेत्र के लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे के नीचे कोरौरा गाँव के पास खेत के किनारे एक नवजात बच्ची को अज्ञात महिला ने जन्म देने के बाद जीवित बेरहमी से फेंक दिया। शौच के लिए गये ग्रामीणों ने नवजात शिशु के रोने की आवाज सुनते ही सनसनी फैल गई। देखते ही देखते ग्रामीणों की भीड़ इकट्ठा हो गई और सौ नंबर डायल कर पुलिस को लावारिस बच्ची पड़ी होने की सूचना दी। आनन-फानन पीआरवी 2915 मौके पहुंचकर नवजात बच्ची को लाकर हसनगंज सीएचसी में भर्ती कराया।

मालूम हो कि रविवार को सुबह-सुबह तब हड़कंप मच गया जब कोतवाली हसनगंज क्षेत्र के आगरा एक्सप्रेस-वे के किनारे कोरौरा गांव के पास खेतों में शौच के लिए गये थे तभी ग्रामीणों को लावारिस नवजात शिशु की रोने की आवाज सुनाई दी। ग्रामीणों ने आवाज सुनकर मौके पर पहुंचे तो नवजात तुरंत जन्म देने के बाद तडफ रही थी। लावारिस शिशु के पड़े होने की सूचना गांव में आग तरह फैल गई। ग्रामीणों ने बुद्धिमानी का परिचय देते हुए सौ नंबर पुलिस को सूचना दे दी।

जिसपर पीआरवी 2915 आनन-फानन मौके पर पहुंचकर रोती बिलखती जीवित नवजात शिशु को उठाकर सीएचसी हसनगंज लाकर भर्ती कराया। जहाँ पर मौजूद डाक्टर गौरव सिंह ने बच्ची की साफ-सफाई करवाकर वार्मर पर रख दिया। इस संबंध में डाक्टर गौरव सिंह ने बताया कि बच्ची पूरी तरह से स्वस्थ है। उसका वजन 900 सौ ग्राम है। पी आर वी पुलिस द्वारा लायी गयी लावारिस बच्ची को समुचित उपचार के लिए जिला अस्पताल एम्बुलेंस से भेजा गया है। 

Comments