ज़ी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2019 का दिल्ली में प्रिव्यू

ज़ी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2019 का दिल्ली में प्रिव्यू

24-28 जनवरी, 2018 के बीच आयोजित होने वाला लिटरेचर का वार्शिक उत्सव अपने 12वें संस्करण के लिए अपने चित-परिचित घर-जयपुर के शानदार डिग्गी पैलेस में लौट आया है।

मुंबई प्रीव्यू के बाद फेस्टिवल ने ताज ग्रुप आॅफ होटल्स के साथ साझेदारी में आज ताजमहल होटल में अपने दिल्ली प्रीव्यू का आयोजन किया।

कार्यक्रम के दौरान प्रत्येक वर्ष की तरह भारत और दुनिया दोनों के साहित्य और विचारों को दर्शाने वाली किताबों, थीम, विषयों और विचारों में फेस्टिवल की प्रोग्रामिंग की विविधता दर्शाने वाले वक्ताओं की जबरदस्त सूची जारी की। 

साहित्यिक ’’कुंभ’’ पिछले एक दशक से भी अधिक समय के दौरान करीब 2,000 वक्ताओं और 10 लाख से अधिक पुस्तकप्रेमियों का स्वागत कर चुका है और धीरे-धीरे वैष्विक साहित्यिक समारोह बन चुका है।

इस वर्ष फेस्टिवल नोबेल, मैन बुकर, पुलित्जर, साहित्य अकादमी, जेसीबी प्राइज़ फाॅर लिटरेचर और डीएससी प्राइज़ फाॅर साउथ एशियान लिटरेचर जैसे प्रमुख पुरस्कारों से सम्मानित लेखकों के साथ ही कई भारतीय और अंतरराश्ट्रीय भाषाओं का प्रतिनिधित्व करने वाले विभिन्न देशों के 350 से अधिक वक्ताओं, लेखकों, चिंतकों, राजनीतिज्ञों, पत्रकारों और संस्कृति की दुनिया के जाने-माने लोगों की मेज़बानी करेगा। 

वक्ताओं की सूची में पौराणिक कथाओं, अपराध विज्ञान, इतिहास, सिनेमा जैसे व्यापक विषयों के साथ क्लासिक्स, युद्ध, जासूसी, खुफिया, राजनीति, पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन, महिला एवं लैंगिंक विषयों, प्रबंधन और उद्यमिता, प्रौद्योगिकी जैसे तेजी से बदलते हुए विशयों को कवर करते हुए भारतीय एवं अंतरराष्ट्रीय नामों की व्यापक सूची शामिल है। 

सूची में दुनिया के कुछ सबसे महान चिंतक और लेखक शामिल हैंः नोबेल पुरस्कृत वेंकी रामकृश्णन, प्रेसीडेंट, राॅयल सोसाइटी और ‘जीन मषीनः द रेस टू डेसिफर द सीक्रेट्स आॅफ राइबोसोम’ के लेखक जो मानवता के सबसे बड़े रहस्यों में से एक जीन रीडिंग माॅलिक्यूल के रहस्यों का खुलासा करता है; बेन ओकरी जिनकी मैन बुकर पुरस्कार विजेता कृति द फैमिष्ड रोड ’’हू इज़ द प्रिज़नर?’’ जैसा बार-बार सामने आने वाला सवाल उठाती है और जो अपने पूरे जीवन और लेखन के मूल भाव तक पहुंचते हैं;

काॅलसन व्हाइटहेड, छह उपन्यासों के लेखक, न्यूयाॅर्क टाइम्स के स्तंभकार हैं, द न्यू याॅर्कर, न्यूयाॅर्क मैग्ज़ीन, हार्पर्स और ग्रांटा के लेखक हैं, 2016 नेषनल बुक अवाॅर्ड फाॅर फिक्षन के विजेता और अपने बेजोड़़ यात्रा वृत्तांत अंडरग्राउंड रेलरोड के विजेता; प्रियंवदा नटराजन, डार्क मैटर, डार्क एनर्जी और ब्लैक होल की मैपिंग के अपने काम के लिए जानी जाने वाली काॅस्मोलाॅजिस्ट, येल में प्रोफेसर और मैपिंग द हेवेंसः द रैडिकल साइंटिफिक आइडियाज़ दैट रिवील द काॅसमाॅस की जानी-मानी लेखिका हैं जो पिछली सदी की सबसे बेहतरीन काॅस्मोलाॅजिकल खोज ’’मैप द हैवेंस’’ यात्रा पर ले जाती हैं। 

Loading...
Loading...

Comments