हिंदू एकता मंच ने धर्मांतरण के खिलाफ रामगढ़ में दिया धरना

 
हिंदू एकता मंच ने धर्मांतरण के खिलाफ रामगढ़ में दिया धरना
 

हिंदू एकता मंच ने धर्मांतरण के खिलाफ रामगढ़ में दिया धरना

• मामले में कुजू ओपी प्रभारी पर कार्रवाई की मांग की

• धर्मांतरण का खेल नहीं रुकने पर दी उग्र आंदोलन की चेतावनी


सुजीत सिन्हा


रामगढ़। धर्मांतरण के मामले को लेकर जिले के हिंदूवादी संगठनों ने बुधवार को सुभाष चौक पर एक दिवसीय धरना दिया। पुलिस प्रशासन से कुजू ओपी प्रभारी को अविलंब निलंबित कर धर्मांतरण पर पूरी तरह से रोक लगाने की माँग की गई। कहा गया कि रामगढ़ में इसाई मिशनरी के लोग गरीब हिंदुओं को लालच देकर और अंधविश्वास फैलाकर धर्मांतरण करा रहे हैं। बीते दिनों कुजू ओपी क्षेत्र के ओरला में गुमला से पहुँचे इसाई मिशनरी के लोग धर्मांतरण कराने का प्रयास करा रहे थे। ग्रामीणों ने उन्हें पकड़ कर पुलिस के हवाले किया। लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।
भुक्तभोगी ने जब इसकी शिकायत कुजू ओपी में की तो ओपी प्रभारी ने उल्टा उसी के साथ दुर्व्यवहार कर भगा दिया। मामले को लेकर हिंदू समाज में आक्रोश देखा जा रहा है। धरना के दौरान हिंदू संगठनों ने सूबे की सरकार पर धर्मांतरण की अनदेखी करने और बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए जमकर नारेबाजी की।  दीपक सिसोदिया ने कहा कि मामले की निष्पक्ष जांच कर दोषी कुजू ओपी प्रभारी अवधेश कुमार को निलंबित किया जाना चाहिए। रामगढ़ में बड़े पैमाने पर धर्मांतरण का खेल हो रहा है। बावजूद इसके प्रशासन रोक लगाना तो दूर मामलों की शिकायत पर कार्रवाई तक नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि धर्मांतरण नहीं रोका गया तो अब हिंदू समाज मजबूर होकर उग्र आंदोलन को बाध्य होगा। वहीं दीपक मिश्रा ने कहा कि पीड़ित जितेंद्र मुंडा शिकायत लेकर थाना गया तो उसके साथ दुर्व्यवहार क्यों किया गया। शिकायत लेकर लोग थाना और ओपी नहीं जाएंगे तो कहाँ जाएंगे। उन्होंने कहा कि कुजू ओपी प्रभारी मामले को जन्मदिन मनाने का बेतुका मामला बता रहे हैं। जबकि वहाँ गुमला की मिशनरी टीम प्रलोभन देकर धर्मांतरण करा रही थी। । भोले भाले लोगों को धर्म बदलने के लिए उकसाया जा रहा था। धरना को संबोधित करते हुए छोटू वर्मा ने कहा कि कुजू ओपी प्रभारी ने पीड़ित जितेंद्र मुंडा के शिकायत पर कार्रवाई और दोषियों को छोड़ दिया। ओपी प्रभारी पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। अपने संबोधन में अनामिका श्रीवास्तव ने कहा कि धर्मांतरण के गंभीर मामले में पुलिस के ऐसे आचरण से साफ है कि राज्य सरकार और प्रशासन पूरी तरह से हिंदू विरोधी मानसिकता पर काम कर रही है।

धरना में ये रहे शामिल

हिंदू एकता मंच के बैनर तले आयोजित इस एकदिवसीय धरना में दीपक सिसोदिया, छोटू वर्मा, दीपक मिश्रा, अनामिका श्रीवास्तव, आकाश कुमार, नीतीश कुमार, कांतेश्वर मिश्र, जितेंद्र मुंडा, कन्हैया रविदास, राजीव कुमार, विशाल कुमार, राम प्रसाद मुखर्जी, राहुल कुमार, गणेश सिंह, शंमू कुमार सिंह, अमित यादव, दीपक भारती, शंकर यादव, पप्पू कुमार, शंकर कुमार, लगनू महतो, ब्रजेश कुमार सिन्हा, मिथिलेश महतो, ओम प्रकाश महतो, पंकज भारती सहित कई मौजूद थे।

FROM AROUND THE WEB