बिना परमिट काट ले गए ठेकेदार 29 सागवान के पेड़

सूत्र एक सिपाही से साठ गांठ कर किया गया खेल
 
बिना परमिट काट ले गए ठेकेदार 29 सागवान के पेड़

स्वतंत्र प्रभात-

त्रिवेदीगंज बाराबंकी।  एक तरफ वृक्षारोपण को लेकर सरकार करोड़ों रुपए पानी की तरह बहा रही है, तरह-तरह के वृक्ष लगाकर पर्यावरण को बचाने का काम कर रही है वही क्षेत्रीय कर्मचारी की मिलीभगत से लगातार हरे भरे पेड़ो पर वन माफियाओं के आरा चल रहे है।

ताजा मामला लोनी कटरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत छंदरौली गांव का है जहां पर सूत्रों के मुताबिक जानकारी में आया कि आशाराम रावत पुत्र हुलासी के खेत मे लगे 29 प्रतिबंधित सागवान के पेड़ जो वन माफिया राम खेलावन , राम बाबू , पुतान के हाथ बेचे गए थे। जिन पेड़ों का वन माफियाओं ने परमिट भी नहीं लिया व क्षेत्रीय कर्मचारियों की मिलीभगत से 29 सागवान के पेड़ पर आरा चला कर  धराशाई कर दिया गया। इतना ही नहीं पेड़ों की लकड़ी को वन माफिया उठाकर जैदपुर पहुचाया गया। और काटे गए पेड़ के ठूठ पर मिट्टी डाल कर बन्द कर दिया गया। वही इस विषय पर जब  रेंजर ऑफिसर से बात की गई उन्होंने 28 हरे भरे सागौन के पेड़ होने की बात कही तथा यह भी बताया कि इसमें थाना लोनी कटरा से एक सिपाही की मिलीभगत थी जिसके कारण इन पौधों का परमिशन भी नहीं कराया गया था अब उपरोक्त के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर दिया गया है

   

FROM AROUND THE WEB