एसडीएम व सोनौली पुलिस के छापेमारी में 80 बोरी गेहूं बरामद

छापेमारी के दौरान मिली लेनदेन की डायरी, डायरी में कई लोगों के नाम के साथ-साथ कुछ विभागों के भी नाम शामिल, एसडीएम ने बताया जांच का विषय

 
अवैध गोदाम को सील करते एसडीएम एवं सोनौली पुलिस

महराजगंज। 

सोनौली कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सभा शेष फरेंदा के टोला करमहिया में नौतनवां एसडीएम व सोनौली पुलिस की टीम ने एक अवैध गोदाम पर छापेमारी की, उक्त छापेमारी के दौरान गोदाम में रखा 80 बोरी सरकारी गेहूं बरामद हुई, बताया गया कि उक्त गोदाम में रखा गेहूं गांव के ही कोटेदार का था, एसडीएम ने अवैध गोदाम को सील करते हुए मौके से दो लोगों को हिरासत में ले लिया है तथा बरामद गेहूं को जांच के लिए आपूर्ति विभाग को सौंप दिया है।

जानकारी के मुताबिक नौतनवां एसडीएम दिनेश कुमार मिश्र को अवैध गोदाम में तस्करी के गेहूं डंप होने की सूचना मिली, एसडीएम ने सूचना को गंभीरता से लेते हुए सोनौली पुलिस के साथ छापेमारी के लिए निकल पड़े। जांच-पड़ताल के बाद मामला सत्य पाया गया। मौके पर छापेमारी के दौरान खाद्यान्न विभाग की बोरी में रखा 80 बोरी गेहूं बरामद हुई। एसडीएम के पूछताछ में उक्त गोदाम गांव के ही एक व्यक्ति का बताया गया। एसडीएम ने कड़ाई से पूछताछ किया तो मकान मालिक ने बताया कि गांव के ही कोटेदार को गोदाम के लिए कमरा भाड़े पर दिया है।

वहीं गोदाम में रखा गेहूं तस्करी के जरिए नेपाल भेजने की आसंका जताई जा रही थी, एसडीएम एवं सोनौली पुलिस ने गेहूं बरामद कर पूरे मामले की जांच के बाद कार्रवाई के लिए आपूर्ति विभाग को निर्देशित किया है।

उक्त संदर्भ में एसडीएम दिनेश कुमार मिश्रा ने बताया कि उक्त गोदाम में छापेमारी के दौरान गोदाम में रखा 80 बोरी सरकारी गेहूं बरामद किया गया है। उन्होंने बताया कि गोदाम को सील कर दिया गया है तथा गेहूं सरकारी बोरी में मिलने के कारण जांच के लिए आपूर्ति विभाग को निर्देशित किया गया है। तथा मौके से दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कराई जा रही है।

मौके से मिली लेनदेन की डायरी, मचा हड़कंप

एसडीएम की छापेमारी के दौरान लेनदेन की एक डायरी मिलने से चर्चाओं का बाजार गर्म है, मिली जानकारी के मुताबिक उक्त डायरी में लेनदेन का जिक्र है जिसमें कई लोगों के नाम के साथ-साथ विभागों का भी जिक्र किया गया है। एसडीएम दिनेश कुमार मिश्र का कहना है कि डायरी बरामदगी हुई है और उसमें कुछ नाम भी लिखे गए हैं। एसडीएम ने कहा कि उसकी वास्तविकता जांच के बाद ही आ सकती है।

   

FROM AROUND THE WEB