हिंदी को राष्ट्रभाषा में अंगीकृत किया जाए प्राचार्य डॉक्टर बंदना कुमारी

 
हिंदी को राष्ट्रभाषा में अंगीकृत किया जाए- प्राचार्य डॉक्टर बंदना कुमारी

हमीरपुर-

14 सितंबर हिंदी दिवस के अवसर पर राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय मे  कार्यक्रम का आयोजन किया गया! कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर एवं दीप प्रज्वलन कर किया गया, कार्यक्रम की अध्यक्षता महाविद्यालय की प्राचार्य डॉक्टर वंदना कुमारी ने की उन्होंने अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि डिजिटल कार्यों में यदि कोड के रूप  में अंग्रेजी के स्थान पर हिंदी या संस्कृत भाषा को कोड के रूप में प्रयोग किया जाए तो हैकिंग जैसे अपराधिक तत्वों को रोका जा सकता है,

उन्होंने कहा कि जिस तरह से धारा 370 को समाप्त किया गया है,उसी प्रकार से हिंदी को राष्ट्रभाषा में अंगीकृत किया जाना चाहिए,कार्यक्रम में हिंदी विभाग की श्रीमती सिंह एवं संजय कुमार ने हिंदी से संबंधित गीत प्रस्तुत किए,हिंदी विभाग के प्रभारी आनंद कुमार ने मंचासीन अतिथियों का स्वागत किया कार्यक्रम का संचालन हिंदी विभाग के पवन कुमार शर्मा ने किया कार्यक्रम में महाविद्यालय के छात्र छात्राएं उपस्थित रही।

FROM AROUND THE WEB