कंप्यूटर ऑपरेटर की मिलीभगत के चलते निजी दुकान पर 180 रुपये में जारी हो रहा मृत्यु प्रमाण पत्र

पीड़ित विधवा ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर की शिकायत

 
कंप्यूटर ऑपरेटर की मिलीभगत के चलते निजी दुकान पर 180 रुपये में जारी हो रहा मृत्यु प्रमाण पत्र 

स्वतंत्र प्रभात

मलिहाबाद,लखनऊ जन्म मृत्यु व आय,जाति, निवास सहित अन्य सभी प्रकार के प्रमाण पत्र बनवाने के लिए ग्रामीणों को विकास खंड कार्यालय के चक्कर न लगाने पड़े इसके लिए सरकार ने सभी ग्राम पंचायतों में सहायक पंचायत चयनित कर दिए गए हैं। इसके लिए सरकार पंचायत सहायकों को प्रतिमाह 6 हजार रुपए का मानदेय भी उपलब्ध करा रही है इसके बावजूद भी पंचायत सचिव के लापरवाही के चलते ग्रामीणों को ब्लाक के चक्कर काटने पर मजबूर होना पड़ रहा है और बिना सुविधा शुल्क दिए कोई भी प्रमाण पत्र नहीं दिया जा रहा है। विकास खंड मलिहाबाद में जन्म मृत्यु प्रमाणपत्र के लिए आवेदकों से अवैध वसूली करने का मामला सामने आया है। पीड़ित विधवा महिला ने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री पोर्टल की है।

विकासखंड मलिहाबाद की ग्राम पंचायत दतली के मजरे अटौरा गांव निवासी विधवा महिला फूलकली ने अपने पति स्वर्गीय अजय पाल का मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आवेदन किया था कई दिन चक्कर लगाने के बाद ब्लाक में पंचायत सचिव से मिलकर मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करने की गुहार लगाई तो पंचायत सचिव अनिल कुमार ने कहा की मृत्यु प्रमाण पत्र बन गया है और कमरे में जाकर कंप्यूटर ऑपरेटर से ले लो तब पीड़ित विधवा महिला फूलकली ने ब्लाक में बने कमरे मैं बैठी कंप्यूटर ऑपरेटर तबस्सुम फारुकी के पास गई और अपने पति स्वर्गीय अजय पाल का मृत्यु प्रमाण पत्र मांगा तो तबस्सुम फारूकी ने कहा की मृत्यु प्रमाण पत्र मलिहाबाद चौराहे पर भारतीय स्टेट बैंक के सामने खालिद की दुकान पर मिलेगा वहां खालिद को 180 रुपये दे देना और वह प्रमाण पत्र प्रिंट

 करके दे देंगे। फूलमती ने बीते गुरुवार को अपने गांव के ही विजय गौतम को खालिद की दुकान पर अपने पति का मृत्यु प्रमाण पत्र लाने की बात कही जब विजय खालिद की दुकान पर जाकर मृत्यु प्रमाण पत्र मांगा तो खाली द्वारा 180 रुपये जमा करने की बात कही तो विजय द्वारा रुपये लेने का विरोध करने पर दुकानदार खालिद ने प्रमाण पत्र नहीं दिया और कहा जब तक 180 रुपये जमा नही करेंगे तब तक ऐसे ही ब्लाक के चक्कर लगाते रहोगे। सुविधा शुल्क के बिना मृत्यु प्रमाण पत्र न देने के कारण पीड़ित महिला ने जनसुनवाई मुख्यमंत्री पोर्टल पर कंप्यूटर ऑपरेटर तबस्सुम फारुकी व दुकानदार खालिद पर कार्यवाही करने की शिकायत दर्ज करवाई है।इस संबंध में ग्राम पंचायत दतली के पंचायत सचिव अनिल कुमार ने बताया के फूल कली द्वारा लगाए गए आरोप बिल्कुल गलत है कंप्यूटर ऑपरेटर तबस्सुम फारुकी पहले प्रमाण पत्र जारी करती थी लेकिन अब वह नहीं बनाती हैं अब मेरे द्वारा ही मेरी आईडी से ही प्रमाण पत्र जारी किए जाते हैं।

   

FROM AROUND THE WEB