चित्रकूट को टाइगर रिजर्व की सौगात देने पर बुंदेली सेना ने सीएम का जताया आभार

चित्रकूट को टाइगर रिजर्व की सौगात देने पर बुंदेली सेना ने सीएम का जताया आभार

 
चित्रकूट को टाइगर रिजर्व की सौगात देने पर बुंदेली सेना ने सीएम का जताया आभार

चित्रकूट को टाइगर रिजर्व की सौगात देने पर बुंदेली सेना ने सीएम का जताया आभार

चित्रकूट। 

जिले को टाइगर रिजर्व की सौगात देने पर बुंदेली सेना ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रति आभार जताया है। बताया कि टाइगर रिजर्व बनने से धर्मनगरी के पर्यटन विकास को पंख लग जायेंगे और पाठा के युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे।

बुंदेली सेना के जिलाध्यक्ष अजीत सिंह ने बताया कि पिछले कई वर्षों से वाइल्ड लाइफ बोर्ड मे टाइगर रिजर्व की फाइल अटकी थी। अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टाइगर रिजर्व को हरी झण्डी देकर क्षेत्र वासियों की वर्षों पुरानी मांग पूरी कर दी है। मानिकपुर स्थित रानीपुर वन्य जीव विहार को टाइगर रिजर्व का दर्जा दिया गया है। पन्ना टाइगर रिजर्व का बडा हिस्सा केन-वेतवा गठजोड़ की वजह से डूब क्षेत्र में आ गया है। प्रदेश के इस चैथे टाइगर रिजर्व का क्षेत्रफल 630 वर्ग किलोमीटर होगा। टाइगर रिजर्व की घोषणा से पाठा क्षेत्र में प्रसन्नता की लहर है। 

बडी तादाद में पर्यटक अब चित्रकूट के पाठा इलाके मे दस्तक देंगे। अब यहां के शबरी जल प्रपात, राघव प्रपात, मार्कंडेय आश्रम, अमरावती जैसे स्थलों मे भी पर्यटन को चार-चांद लगेंगे। पाठा क्षेत्र पर्यटन का बडा हब बनेगा। जब रोज हजारों पर्यटक टाइगर रिजर्व पहुंचेंगे तो युवाओं के लिए रोजगार के अवसर मिलेंगे। इसके अलावा शासन ने रेस्क्यू सेंटर की भी सौगात दी है। यह रेस्क्यू सेंटर मडैयन-बहिलपुरवा मार्ग पर बनेगा। घायल और बीमार जानवरों का इसमे इलाज होगा। अजीत सिंह ने बताया कि टाइगर रिजर्व और रेस्क्यू सेंटर क्षेत्र के लिए वरदान है। इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ की जितनी भी प्रशंसा की जाय कम है। जिलेभर मे लोग सरकार के प्रति धन्यवाद ज्ञापित कर रहे हैं।

   

FROM AROUND THE WEB