ग्रामीण क्षेत्र की पेयजल योजना में देरी पर डीएम ने मांगा स्पष्टीकरण

-50 लाख से ऊपर की परियोजनाओं की डीएम ने की समीक्षा 

 
ग्रामीण क्षेत्र की पेयजल योजना में देरी पर डीएम ने मांगा स्पष्टीकरण

-50 लाख से ऊपर की परियोजनाओं की डीएम ने की समीक्षा 

महोबा । ब्यूरो रिपोर्ट-अनूप सिंह

 महोबा जिलाधिकारी मनोज कुमार की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में 50 लाख से ऊपर की निर्माणाधीन परियोजनाओं की समीक्षा बैठक संपन्न हुई।

 बैठक में जिलाधिकारी ने समस्त कार्यदाई संस्थाओं के अधिकारियों एवं संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिया कि निर्माणाधीन परियोजनाएं निर्धारित समय में गुणवत्ता युक्त रूप से पूरी की जाएं। इन परियोजनाओं में कोई देरी नहीं होने पाए। उन्होंने सचेत करते हुए कहा कि निर्माणाधीन परियोजनाओं के निर्माण कार्य में निरीक्षण करने पर तथा जांच करने पर यदि गुणवत्ता में कोई कमी पाई गई तो संबंधित ठेकेदार और कार्यदाई संस्था के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारियों को निर्देश दिए कि निर्माणाधीन परियोजनाओं के कार्यों का पूर्ण विवरण तथा योजना में व्यय की गई धनराशि का विवरण सहित सीएम पोर्टल के साइट पर निर्धारित प्रारूप में फीड करें।

जिलाधिकारी ने लोक निर्माण विभाग द्वारा निर्माणाधीन महोबा-चरखारी मार्ग से बिलबई होते हुए रिवई-कबरई मार्ग का चौड़ीकरण कार्य में तेजी लाने तथा एनएच 76 से काली पहाड़ी होते हुए कबरई कुन्हेटा मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण  कार्य  को शीघ्र पूर्ण किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत निर्माण की जा रही सड़कों के कार्य में देरी होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्य में शीघ्रता से कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिए। बैठक में बताया गया कि सेतु निगम का एक कार्य निर्माणाधीन था जो पूर्ण हो गया है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन परियोजनाओं में 70 प्रतिशत काम पूर्ण हो गया है तथा धनराशि की कोई कमी है तो शासन से धनराशि प्राप्त करने के लिए उनके स्तर से तत्काल पत्राचार शासन स्तर पर किया जाए और धनराशि की मांग की जाए। तथा धनराशि प्राप्त कर निर्माणाधीन परियोजनाओं का कार्य समय से शीघ्र पूर्ण किया जा सके। उन्होंने सी.एन.डी.एस. के अधिकारी को निर्देश दिए कि डूडा विभाग के अंतर्गत आवासों के निर्माण कार्य को शत-प्रतिशत रूप से शीघ्र पूर्ण किया जाए। उन्होंने कबरई ग्रामीण क्षेत्र की पेयजल योजना में देरी होने पर स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

         बैठक में प्रभारी मुख्य विकास अधिकारी एवं परियोजना निदेशक चित्रसेन सिंह सहित कार्यदाई संस्थाओं के अधिकारी तथा अभियंता उपस्थित रहे।
 

   

FROM AROUND THE WEB