राष्ट्रीय युवा दिवस के उपलक्ष में एक निशुल्क व वीणाल आयोजित की गई

 
राष्ट्रीय युवा दिवस के उपलक्ष में एक निशुल्क व वीणाल  आयोजित की गई
 

स्वतंत्र प्रभात 

नैनी,प्रयागराज।

अखंड एवं संकल्प चैरिटेबल ट्रस्ट के संयुक्त तत्वाधान में राष्ट्रीय युवा दिवस के उपलक्ष में एक निशुल्क व वीणाल शाम 5:30 बजे से 6:30 बजे तक आयोजित की गई।जिसमें भारत के प्रत्येक राज्यों से संयोजक एवं विद्यार्थियों को सम्मिलित किया गया इस बिजनौर में स्वामी विवेकानंद जी के बारे में एवं युवा साथियों के बारे में विचार रखते हुए  विश्व संवाद परिषद योग प्राकृतिक चिकित्सा प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगाचार्य डॉ रमेश चंद्रा ने बताया कि "उठो जागो और तब तक मत रुको जब तक मंजिल प्राप्त न हो जाए’का संदेश देने वाले युवाओं के प्रेरणास्रोत, समाज सुधारक युवा युग-पुरुष ‘स्वामी विवेकानंद’का आज जन्मदिन है 12 जनवरी 1863 को उनका जन्म कलकत्ता  में हुआ था। 

इसी क्रम में संकल्प चैरिटेबल ट्रस्ट के निदेशक डॉ नवीन सिंह  ने बताया कि हर साल इसी दिन 12 जनवरी को राष्ट्रीय युवा दिवस  के रूप में मनाया जाता है. स्वामी विवेकानंद अपने ओजपूर्ण और बेबाक भाषणों के कारण काफी लोकप्रिय हुए, खासकर युवाओं के बीच. यही कारण है कि उनके जन्मदिन को पूरा राष्ट्र ‘युवा दिवस’के रूप में मनाता है.  चैरिटेबल ट्रस्ट के अध्यक्षा प्रोफेसर डॉ अर्चना दुबे कहा की स्वामी विवेकानंद मानवता की सेवा एवं परोपकार के लिए 1897 में रामकृष्ण मिशन की स्थापना की. इस मिशन का नाम विवेकानंद ने अपने गुरु रामकृष्ण परमहंस के नाम पर रखा स्वामी विवेकानंद का रोम रोम राष्ट्रभक्ति से ओत प्रोत था। इस वेबीनार में देश के विभिन्न जनपदों से जुड़े संयोजक वाराणसी से डॉ अजीत सिंह ,बस्ती से राम मोहन पाल उमेश कुमार ज्योति सिंह वेदांत सिंह, सन्नो दुबे सैकड़ों सदस्य उपस्थित रहे।

FROM AROUND THE WEB