यज्ञ-हवन और कन्या पूजन के साथ नवरात्र का समापन ।

धार्मिक अनुष्ठानों के साथ पांच कुंडीय महा यज्ञ के साथ नवरात्रि का पर्व संपन्न हुआ।
 
धार्मिक अनुष्ठानों के साथ पांच कुंडीय महा यज्ञ के साथ नवरात्रि का पर्व संपन्न हुआ।

स्वतंत्र प्रभात 
 

संतोष तिवारी (रिपोर्टर)

ज्ञानपुर,भदोही ।

 क्षेत्र के तमाम मंदिरों सहित स्थानीय घोंपईला मंदिर में सिद्धिदात्री की पूजा की गई। पर्व का समापन यज्ञ, हवन के साथ हुआ। इसके अलावा श्रद्धालुओं द्वारा कन्या का पूजन कर नवरात्रि व्रत का समापन किया गया। क्षेत्र के घोंपईला मंदिर में विधि-विधान से हवन पूजन करके मां की विदाई की गई। मंदिरों, घरों व पूजा पंडालों में भीड़ लगी रही। ग्रामीण क्षेत्रों में नवरात्र के अंतिम दिन दुर्गा पूजा पंडालों में श्रद्धालुओं का रेला लगा रहा। कलश स्थापित कर व्रत रखने वालों ने हवन-पूजन किया। महिलाओं ने पचरा गाया।धार्मिक अनुष्ठानों के साथ पांच कुंडीय महा यज्ञ के साथ नवरात्रि का पर्व संपन्न हुआ।

 गुरुवार को कुमारी पूजन तथा हवन के साथ शारदीय नवरात्र संपन्न हुआ‌। मंदिर पर देवी स्वरूप 11 वर्ष से कम उम्र की कुंवारी कन्याओं को और भैरव स्वरूप एक बालक की पूजा कर उन्हें भोजन कराया गया। व्रती कई महिलाओं ने पारण किया जबकि कई लोग दशमी को पारण करेंगे।

FROM AROUND THE WEB