दबंग युवक की गिरफ्तारी न होने से नाराज अधिवक्ता पुलिस कमिश्नर के आवास पर करेंगे जोरदार विरोध प्रर्दशन

दबंग युवक की गिरफ्तारी न होने से नाराज अधिवक्ता पुलिस कमिश्नर एस०बी० शिरोडकर के आवास पर करेंगे धरना प्रर्दशन

 
दबंग युवक की गिरफ्तारी न होने से नाराज अधिवक्ता पुलिस कमिश्नर के आवास पर करेंगे जोरदार विरोध प्रर्दशन  

स्वतंत्र प्रभात 

 मोहनलालगंज लखनऊ राजधानी लखनऊ के मोहनलालगंज कोतवाली क्षेत्र के मऊ गाँव मे अधिवक्ता विनय कुमार मिश्रा को जान से मारने की धमकी व 5 लाख रूपये की रंगदारी माँगने के आरोपी युवक अजीत कुमार पाण्डेय की  लगभग एक सप्ताह का समय बीत जाने के बावजूद गिरफ्तारी न होने से नाराज अधिवक्ताओं ने पुलिस कमिश्नर लखनऊ के आवास पर  शनिवार को विरोध प्रर्दशन कर  आमरण अनशन पर बैठ कर न्याय की गुहार लगाएंगे  लखनऊ सेन्ट्रल बार एसोसिएशन और मोहनलालगंज बार एसोसिएशन के सैकड़ों वकीलों ने शनिवार को पुलिस कमिश्नर एस०बी० शिरोडकर के आवास पर शान्ति पूर्वक विरोध प्रर्दशन कर युवक की गिरफ्तारी की मांग करेंगे ।अधिवक्ता विनय कुमार मिश्रा से प्राप्त जानकारी के अनुसार मऊ गाँव निवासी अजीत कुमार पाण्डेय ने उनके मित्र करन सिंह से विनय कुमार मिश्रा को जान से मारने की धमकी व 5 लाख की रंगदारी की माँग कर डाली जिसको करन सिंह ने अपने मोबाइल फोन पर रिकार्ड कर लिया ।युवक की अभी तक गिरफ्तारी न होने से

गाँव के लोगों की जुबां पर मोहनलालगंज पुलिस को अपराधी प्रवृत्ति के परिवार को संरक्षण देने का भी आरोप लग रहा है  । वहीं अधिवक्ताओं के कोतवाली मोहनलालगंज मे धरना प्रर्दशन की जानकारी होने पर कोतवाली मोहनलालगंज पहुँची अपर पुलिस उपायुक्त दक्षिणी मनीषा सिंह ने अधिवक्ताओं से 12 घण्टे के भीतर युवक की गिरफ्तारी करने का आदेश इंस्पेक्टर कुलदीप दुबे को दिया जिस पर भी कोई कार्यवाही नहीं हुई ।   अधिवक्ता विनय कुमार मिश्रा  के अनुसार मऊ गाँव निवासी अजीत कुमार पाण्डेय के पिता सोनू हरि जो कि अपराधी प्रवृत्ति के हैं जिन पर कोतवाली मोहनलालगंज मे अत्यधिक मुकदमें दर्ज हैं पुलिस संरक्षण के चलते

अभी तक उस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई है ।इसके बावजूद मोहनलालगंज पुलिस न तो दबंग युवक अजीत कुमार पाण्डेय जिस पर धारा 386 , 504 व 506 का मुकदमा पंजीकृत है उसको गिरफ्तार करने मे नाकाम है बल्कि अत्यधिक मुकदमों के चलते दंबग युवक के पिता अनिल कुमार पाण्डेय उर्फ सोनू हरि पर अभी तक न तो गुंडा एक्ट लगा है और न ही कोई कार्यवाही हुई है यह कमिश्नरेट की पुलिसिया व्यवस्था पर बहुत बड़ा सवाल है  

   

FROM AROUND THE WEB