कलयुगी पिता की प्रताड़ना से परेशान दो बहनों ने खाया जहरीला पदार्थ

एक की मौत दूसरे का इलाज जारी 
 
कलयुगी पिता की प्रताड़ना से परेशान दो बहनों ने खाया जहरीला पदार्थ 

 

स्वतंत्र प्रभात 

बाँदा जनपद के बबेरू कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत पंडरी गांव की रहने वाली दो सगी बहनों ने जहरीला पदार्थ खा लिया, जिसमें एक की मौत हो गई है, वही दूसरी बहन का  मेडिकल कॉलेज बांदा में इलाज चल रहा है।  लड़की ने बताया कि उसके पिता आए दिन दोनों बहनों के साथ मारपीट करता था और आज रात कुल्हाड़ी से काटकर जान से मार देने की बात कह रहा था। जिससे परेशान होकर हम दोनों बहनों ने जहर खा लिया है। मामला बबेरु कोतवाली के पंडरी गांव का हैं, जहा कलयुग पिता अभी कुछ दिन पहले ही हत्या के आरोप में जेल से सजा काटकर बाहर आया है। हत्यारे पिता मलखान सिंह की नजर एक बार फिर अपनी दोनों बेटियों की हत्या करने पर थी।

जिसकी भनक दोनों बेटी प्रियंका 21 वर्ष व सपना 19 वर्ष को लग जाने के कारण पिता के हाथों मरने से बेहतर जहर की गोली खाकर जान देना उचित समझा। इसीलिए घर में रखी सल्फास की गोली दोनों बहनों ने खा लिया,जिसमें बड़ी बहन प्रियंका की मौत हो गई। और दूसरी का राजकीय एलोपैथिक मेडिकल कॉलेज बांदा में इलाज चल रहा है। लड़की ने बातचीत करते हुए कहा कि वह अपने पिता की प्रताड़ना से परेशान होकर जान देना चाहती है। एसपी बांदा से गुहार लगाई है कि उसके पिता और चाचा को जेल भेज कर उसे इंसाफ दिलाया जाए।

वहीं मृतक की मां रेखा देवी बबेरू कोतवाली पर पति मलखान सिंह देवर राजेश सिंह सुरेश सिंह के खिलाफ बबेरू कोतवाली पर मारपीट प्रताड़ना गाली गलौज और जान से मारने की धमकी को लेकर तहरीर दिया है। वही बताया है कि अभी कुछ दिन ही पहले हत्या के केस से जेल से छूटकर आए थे। आए दिन मेरी दोनों लड़कियों के साथ गाली गलौज मारपीट जैसे प्रताड़ना करती थी। जिसके तहत आज डर के मारे मेरी दोनों लड़कियां प्रियंका और सपना ने जहरीला पदार्थ खा लिया। जिससे बड़ी बेटी प्रियंका की मौत हो गई है, वहीं दूसरी बेटी सपना का इलाज मेडिकल कॉलेज पर चल रहा है।उधर बबेरू कोतवाली पुलिस के द्वारा आरोपी पिता मलखान सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। और राजेश एवं सुरेश की तलाश की जा रही है, उधर मृतक लड़की के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।

   

FROM AROUND THE WEB