चेरी पूर्वा मजरे लालूपुर गांव में की गई गोकशी

 
चेरी पूर्वा मजरे लालूपुर गांव में की गई गोकशी


रामनगर बाराबंकी।

तहसील रामनगर क्षेत्र में चेरी पुरवा मजरे लालू पुर गांव में दिनेश द्वारा बताया गया कि गांव के ही मोहिद्दीन के लड़के और उनके साथ में जुनेद नामक व्यक्ति और कुछ लोग साथ में थे रात्रि में गाय को पकड़ा गांव के लड़कों ने पूछा कि गाय कहां ले जाओगे जुनेद मोहियादीन के लड़के ने कहा कि पांव में चोट है हम इस गाय को ले जाकर के मूवी आयल लगा दूंगा उसके बाद पा लूंगा।

गांव के लड़कों ने सोचा हो सकता है पालने के लिए ले जा रहा हो। लेकिन जुनैद, मोहिद्दीन के लड़के साथ में कुछ और लोग मिलकर के रात्रि में सरसों के खेत में ले जाकर के कलेक्टर का पेड़ मैं कपड़े से बांध दिया वहीं पर गाय को काट डाला सुबह जब हुआ। तो गांव वालों को शंका हुई क्योंकि उसके साथ एक बछड़ा भी था। वह रात्रि में चिल्ला रहा था लेकिन ठंड होने के कारण रात्रि में किसी ने जानकारी लेने की कोशिश नहीं की। सुबह होते ही दिनेश ने जब खेत गए तो देखा क्या की जहां पर गाय काटी गई थी। वहीं पर ब्लड पढ़ा हुआ था जिस कपड़े से गाय की गर्दन बांधी गई थी

 वह कपड़ा भी पेड़ में बंधा हुआ था तब दिनेश को शंका हुई वह आकर के गांव वालों को बताया तब गांव वालों ने जुनैद व मोहियादीन के लड़के को पकड़ा। तब इन दोनों लोगों ने कबूल किया की रात्रि में हमें लोगों ने गाय को काटा है तब दिनेश ने अपनी तहरीर पर कोतवाली रामनगर को तहरीर देकर बताया कि हमारे गांव में गौ हत्या की गई है। जबकि दिनेश का कहना है कि वह गाय दुधारू थी अपने बच्चे को दूध पिलाया करती थी। गांव में अक्सर घूमा करती थी। सूचना पाते ही क्षेत्राधिकारी दिनेश कुमार दुबे अपनी टीम के साथ गांव पहुंचकर कार्रवाई आरंभ कर दी।

 उसी आनन-फानन में कोतवाल विनोद बाबू अपनी टीम के साथ पहुंच कर कार्यवाही प्रारंभ किया। गांव के बहुत लोग इकट्ठा होकर के पुलिस को बताया की रात्रि में यह दोनों लोग गाय को पकड़े लिए जा रहे थे हम लोगों ने पूछा तो इन्होंने कहा कि पैर में चोट है हम इसको ले जाकर के इलाज कराएंगे उसके बाद इसको पा लेंगे। इसी संख्या में गांव वालों ने कुछ नहीं कहा सुबह होते ही हलचल मच गई की गाय की गोकशी की गई है गांव मैं आग की तरह या सूचना फैल गई और गांव में बढ़ा आक्रोश व्याप्त हो गया लेकिन मौके पर पुलिस पहुंच करके कार्रवाई आरंभ कर दिया है।

मौके पर गाय की अस्थियांको क्षेत्राधिकारी कोतवाल वह गांव के लोग डॉक्टर भी मौजूद रहकर के हस्तियों को दफना दिया गया और बताया जाता है कि 2 लोगों को पुलिस ने पकड़ कर ले गई है और कुछ लोग भागे हुए हैं। पुलिस पकड़ने के लिए छापेमारी कर रही है सूचना पाते ही मौके पर मीडिया भी पहुंची। जब क्षेत्राधिकारी से मीडिया वालों ने बाइट देने के संबंध में कहा तो वह टालमटोल करते हुए। अपनी गाड़ी को आगे बढ़ा दिया अब देखना यह है की गोकशी हत्यारों के ऊपर कार्रवाई होती है कि ठंडे बस्ते में कार्रवाई को डाल दिया जाता है या तो राम भरोसे

FROM AROUND THE WEB