25वीं राज्य स्तरीय एंबुलेंस प्रतियोगिता का समापन

  • हरियाणा के राज्यपाल ने मुख्यातिथि के तौर पर की शिरकत
  • विजेताओं को पारितोषिक वितरित किए
  • मानव सेवा ही श्रेष्ठ सेवा : सत्यदेव नारायण आर्य

नारनौल (ब्यूरो विनीत पंसारी)

हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने कहा कि मानव सेवा ही सबसे श्रेष्ठ सेवा है।

मानवता की सेवा नर-नारायण की सेवा के बराबर है। ऐसी सेवा में धर्म भी होता है तथा ऐसे धार्मिक व सेवा कार्यों में सेंट जॉन रेडक्रास समिति दशकों से लगी हुई है। 

आर्य आज 25वीं राज्य स्तरीय एंबुलेंस प्रतियोगिता के समापन अवसर पर यदुवंशी शिक्षा निकेतन पटीकरा में बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे।

इस अवसर पर उन्होंने प्रतियोगिता की विजेता टीमों को पारितोषिक वितरित किए। महामहिम ने समारोह के आयोजन के लिए अपने फंड से 5 लाख रुपए देने की घोषणा भी की।  इस सफल आयोजन पर सेंट जॉन एंबुलेंस विंग हरियाणा व जिला प्रशासन के अधिकारियों को बधाई देते हुए कहा कि यह संस्था किसी भी प्रकार की आपदा की स्थिति से निपटने के लिए सबसे आगे रहती है।

उन्होंने केरल में बाढ़ के कारण मची तबाही के दौरान रेडक्रास द्वारा की गई सेवाओं के लिए भी संस्था की पीठ थपथपाई।

     राज्यपाल ने देश के युवाओं से आह्वान किया कि वे देश की तरक्की में मिल-जुलकर काम करें। युवा ही असली ताकत होते हैं और युवा शक्ति के बिना किसी भी देश की तरक्की संभव नहीं होती। युवाओं को अगर इसी प्रकार से सकारात्मक कार्यों से जोड़ा जाए तो वे हर असंभव काम को संभव कर सकने की क्षमता रखते हैं। 

आर्य ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री की अगुवाई में देश ने तेजी से तरक्की की है वहीं पर राज्य में मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में हरियाणा ने विकास की नई ऊंचाइयों को छुआ है।
राज्यपाल ने प्रधानमंत्री के बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के नारे का उल्लेख करते हुए कहा कि इस अभियान के बाद बेटियों के प्रति समाज की सोच बदली है।

उसी का नतीजा है कि हमारी बेटियां आज विभिन्न क्षेत्रों में नए आयाम स्थापित कर रही हैं। इतना ही नहीं अब देश की बेटियां सैनिक बनकर भी अपने शौर्य का परिचय दे रही हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री के स्वच्छता के अभियान को भी लगातार जन आंदोलन के रूप में चलाए रखने का आह्वान किया।


इस राज्यस्तरीय प्रतियोगिता में प्रदेश की 115 टीमों के 670 प्रतिभागियों ने भाग लिया जिसमें प्रदेश के युवाओं का आपदा के दौरान एक तरह से रियलिटी टेस्ट हुआ। समापन समारोह में आपदा में घायलों को मदद करने का एक डेमो भी विद्यार्थियों द्वारा दिखाया गया।

इस अवसर पर उन्होंने सेंट जॉन का झंडा फहराया तथा बिग्रेड टीमों की मार्च पास्ट की सलामी ली तथा परेड का निरीक्षण भी किया। समारोह में ब्लड कैंप लगाया गया जिसमें 27 यूनिट एकत्रित की गई।


    इस मौके पर नारनौल के विधायक ओमप्रकाश यादव, नांगल चौधरी के विधायक डा. अभय सिंह यादव, उपायुक्त डा. गरिमा मित्तल, पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार, सेंटर जॉन एंबुलेंस हरियाणा के वाइस चेयरमैन डा. मुकेश अग्रवाल, एग्रो इंडस्ट्रीज के चेयरमैन गोबिंद भारद्वाज, एडीसी महावीर प्रसाद, एसडीएम जगदीश शर्मा, यदुवंशी शिक्षा निकेतन के चेयरमैन बहादुर सिंह, रेडक्रास के जनरल सेके्रटरी डीआर शर्मा, जिला रेडक्रास समिति के सचिव मनोरंजन शर्मा, यदुवंशी स्कूल के प्राचार्य सुभाष यादव के अलावा अन्य गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

 

  • इस तरह के आयोजन से युवाओं में चेष्टा का भाव जागृत होता है : ओमप्रकाश यादव

25वीं राज्य स्तरीय एंबुलेंस प्रतियोगिता के समापन अवसर पर नारनौल के विधायक ओमप्रकाश यादव ने कहा कि इस तरह के आयोजनों से युवाओं में सेवा भाव की चेष्टा जगती है।  

उन्होंने कहा कि रेडक्रास के कार्य हमारी संस्कृति के अनुरूप हैं। हमारी संस्कृति में पर हित को सबसे बड़ा सुख बताया है। यदुवंशी शिक्षण संस्थान में आयोजित यह कार्यक्रम युवाओं को सकारात्मक भाव पैदा करेगा। आपात स्थिति में जान-माल के नुकसान को हम कम से कम कर पाएंगे।
 

  • लोक भलाई सबसे महत्वपूर्ण कर्म : डा. अभय सिंह

25वीं राज्य स्तरीय एंबुलेंस प्रतियोगिता के समापन अवसर पर नांगल चौधरी के विधायक डा. अभय सिंह यादव ने कहा कि इंसान दुनिया में अगर सबसे महत्वपूर्ण काम करना चाहता है तो वह एकमात्र कर्म लोक भलाई है। रेडक्रास जैसी संस्थाएं दशकों से इसी लोक भलाई में लगी हुई हैं। उन्होंने कहा कि आदमी के संकट में जो काम आता है वहीं सबसे अधिक कीमती होता है। हरियाणा के दक्षिण छोर पर इस जिले में इस तरह की प्रतियोगिता होना हमारे लिए गौरव की बात है। इस तरह की प्रतियोगिताओं से युवा किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहता है।
 

  • राज्यस्तरीय एंबुलेंस प्रतियोगिता में ये टीमें रही विजेता

25वीं राज्य स्तरीय एंबुलेंस प्रतियोगिता के समापन अवसर पर महामहिम राज्यपाल ने प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पर आने वाली टीमों को पारितोषिक वितरित किए।


    इसी प्रकार सेंट जॉन एंबुलेंस ब्रिगेड टीम में केडेट एंबुलेंस डिवीजन में नारनौल की टीम प्रथम, जींद द्वितीय व फरीदाबाद तृतीय स्थान पर रही। केडेट नर्सिंग डिविजन में नारनौल पहला, हिसार द्वितीय व फरीदबाद ने तीसरा स्थान प्राप्त किया।

एंबुलेंस डिविजन में यमुनानगर प्रथम तथा रोहतक ने द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त किया। नर्सिंग डिविजन में नारनौल ने प्रथम, करनाल ने दूसरा व नारनौल ने ही तृतीय स्थान प्राप्त किया।


     पुलिस होमगार्ड एनजीओ एंबुलेंस डिविजन पुरुष वर्ग में रोहतक की टीम ने पहला, यमुनानगर की टीम ने द्वितीय व पंचकूला की टीम तृतीय स्थान पर रही। पुलिस होमगार्ड एनजीओ एंबुलेंस डिविजन महिला वर्ग में पंचकूला की टीम ने पहला स्थान प्राप्त किया, जबकि महेंद्रगढ़ की टीम को स्पेशल अवार्ड दिया गया।

 

 

  • इसी प्रकार मार्च पास्ट में महेंद्रगढ़ पहले व पंचकूला दूसरे स्थान पर रहा।

इस प्रतियोगिता में उच्च स्कोर प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को भी सम्मानित किया। इनमें केडेट एंबुलेंस डिवीजन में यदुवंशी शिक्षा निकेतन  के रुद्राक्ष भारद्वाज, केडेट नर्सिंग डिवीजन में हिसार की सरिता व पंचकूला के नुसरत राणा को हाई स्कोर मिले। एंबुलेंस डिवीजन में नारनौल का अंकित, नर्सिंग डिवीजन में नारनौल की प्रिया तथा पुलिस, होमगार्ड एनजीओ एंबुलेंस डिविजन पुरुष वर्ग में पंचकुला के शंकय जायसवाल, तथा महिला वर्ग में पंचकूला की मंदीप कोर को उच्च अंक मिले।
 

  • छठ पूजन के कार्यक्रम को राज्यपाल ने सराहा

नारनौल। पटीकरा में आयोजित 25वीं राज्य स्तरीय एंबुलेंस प्रतियोगिता के समापन अवसर पर स्कूली छात्राओं द्वारा छठ पूजन को दर्शाते हुए पेश किए गए सांस्कृतिक कार्यक्रम को राज्यपाल ने काफी सराहना की।

उन्होंने कहा कि पूरे भारत में छठ पर्व का विशेष महत्व है। छात्राओं नेे इस पर्व के संबंध में जो कार्यक्रम दिया है वह हमारी समृद्ध संस्कृति को दर्शाता है। इस संस्कृति पर हमें गर्व है।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments