महिला एवं बाल विकास के कार्यों में लापरवाही पर बनकटी वह गौर सीडीपीओ को नोटिस,

महिला एवं बाल विकास के कार्यों में लापरवाही पर बनकटी वह गौर सीडीपीओ को नोटिस,

बस्ती 

जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने महिला एंव बाल विकास विभाग में कार्यो में शिथिलता एंव लापरवाही पायें जाने पर बनकटी तथा गौर के सीडीपीओं को कारण बताओं नोटिस जारी करने का निर्देश दिया है।

विकास भवन में आयोजित जिला पोषण समिति की बैठक में उन्होेने पाया कि इन ब्लाको में लाभार्थियों का आधार कार्ड फीडिंग सबसे कम है। पोषण पुनर्वास केन्द्र  में अतिकुपोषित बच्चों को भेजने की संख्या भी बहुत कम है।

जिलाधिकारी ने कहा कि विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं में सबसे खराब उपलब्धि वाली सीडीपीओं को चिन्हित कर कार्यक्रम अधिकारी उनके विरूद्ध प्रतिकूल प्रविष्टि एवं अनुशासनात्क कार्यवाही प्रस्तावित करेंगी।

उन्होने कहा कि पिछले कई महीनों से आधार कार्ड की फीडिंग के लिए कार्ययोजना मांगी जा रही है परन्तु किसी सीडीपीओं ने कार्ययोजना नही दी है। कार्यक्रम अध्किाारी ने बताया कि इसके लिए सीडीपीओं को कारण बताओं नेाटिस तथा चेतावनी दी मुख्य विकास अधिकारी द्वारा जारी की गयी है। 

समीक्षा में उन्होने पाया कि अतिकुपोषित बच्चों के समुचित ईलाज के लिए जिला अस्पताल में दस बेड का पोषण पुनर्वास केन्द्र संचालित है लेकिन यहाॅ कभी भी सभी दस बेड भरे नही रहते। कुछ सीडीपीओं ने बताया कि अभिभावक तैयार नही होते तथा उनके आने जाने का साधन नही रहता।

जिलाधिकारी ने कहा कि 102 नम्बर की एंबुलेन्स के द्वारा अतिकुपोषित बच्चों को लाया जा सकता है।  राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम का वाहन प्रत्येक शनिवार को ऐसे बच्चों को जिला अस्पताल लाने के लिए निर्धारित है। इसके अलावा ग्राम प्रधान भी अपने साधन से ला सकते है।

समीक्षा में उन्होने पाया कि जिले के सभी आगनबाड़ी केन्द्रों पर 288333 बच्चे पंजीकृत है, जिसमें से 90000 हजार बच्चों का अभी आधार कार्ड नही बना है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है

कि आधार कार्ड बनाने का कार्य बैक अथवा पोस्ट आफीस में किया जा रहा है। अभिभावको को बच्चों केसाथ निकट के बैंक या पोस्ट आफीस लाकर उनका अधार कार्ड बनावाया जा सकता है। एक सप्ताह में इसकी कार्ययोजना जिला कार्यक्रम अधिकारी प्रस्तुत करेंगी। 

जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि ब्लाको पर अनपूरक आहार प्राप्त होने पर इसकी सूचना सबसे पहले एसडीएम को दी जायेंगी।

स्वयं एसडीएम या उनके द्वारा नामित अधिकारी द्वारा सत्यापन के बाद ही अनपूरक आहार वितरण के लिए आगनबाड़ी केन्द्रों पर भेजा जायेंगा। बैठक में उपस्थित उप जिलाधिकारियों ने बताया कि अभी तक अनपूरक आहार प्राप्त होने की कोई सूचना नही दी जाती है। 

बैठक का संचालन जिला कार्यक्रम अधिकारी सावित्री देवी ने किया। इसमें मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द पाण्डेय, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीणा, उप जिलाधिकारी शिव प्रकाश शुक्ला, आशाराम वर्मा, पीडी आरपी सिंह, डीडीओं अजीत श्रीवास्तव, सीडीपीओ, खण्ड विकास अधिकारीगण उपस्थित रहे।

 

Comments